छत्तीसगढ़ः मां की हत्या कर तीन दिन तक खाता रहा उसका मांस, प्यास लगने पर पी लिया खून

हत्या के तीन दिन तक आरोपी अपनी मां के मांस को कच्चा व कुछ भूंजा हुआ खाता रहा. इस दौरान आरोपी हत्यारे बेटे को कई बार देखा गया, लेकिन जंगल का सहारा लेकर वो पुलिस पकड़ से दूर हो जाता था.

छत्तीसगढ़ः मां की हत्या कर तीन दिन तक खाता रहा उसका मांस, प्यास लगने पर पी लिया खून
मां की हत्या करने के 19 दिन बाद पकड़ा गया आरोपी बेटा

कोरबाः छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. जहां एक बेटे ने पहले तो अपनी मां की बेदर्दी से हत्या कर दी और उसके बाद उसके मांस को कभी पकाकर तो कभी कच्चा ही खाता रहा. यही नहीं आरोपी युवक ने अपनी मां के खून का रक्तपान कर लिया. बता दें पुलिस काफी दिनों से आरोपी की तलाश कर रही थी, जिसके बाद अब जाकर पुलिस उसे पकड़ पाई है. आरोपी युवक अपने गांव से लगे रामाकछार जंगल में ही छुपा हुआ था. पुलिस की मानें तो हत्या के तीन दिन तक आरोपी अपनी मां के मांस को कच्चा व कुछ भूंजा हुआ खाता रहा. इस दौरान आरोपी हत्यारे बेटे को कई बार देखा गया, लेकिन जंगल का सहारा लेकर वो पुलिस पकड़ से दूर हो जाता था. हत्या के 19 दिन बाद पुलिस ने उसे पकड़कर सलाखों के पीछे कैद कर दिया है.

शव के साथ 6 महीने से रह रहा था परिवार, बेटा करता था शव को जीवित करने की कोशिश

बता दें अपने बेटे के ही हाथों मां की मौत का यह दर्दनाक मामला बीते 31 दिसंबर का है. हैवानियत से भरी यह वारदात पाली थाना के ग्राम रामाकछार में दिन-दहाड़े देखी गई. यहां रहने वाली एक महिला ने पुलिस सहायता केंद्र चैतमा पहुंचकर सूचना दी, कि उसने गांव के एक युवक को अपनी मां की हत्या कर खून पीते देखा था. गांव के रीवादह पारा में रहने वाले दिलीप यादव पर अपनी मां सुमरिया यादव की हत्या करने का आरोप है. दिलीप ने टांगी मारकर सुमरिया की बेरहमी से हत्या कर दी और उसका खून पीने लगा. 

इटावा में युवक की निर्मम हत्या, पेड़ से लटका मिला सिर, मकान से मिला धड़

घर के बाहर ही उसने अपनी मां को मौत की नींद सुलाया था और खून पीने के बाद उसकी लाश घसीटकर वह घर के भीतर ले गया. पहले तो उसने लाश के टांगी से टुकड़े-टुकड़े कर दिए, फिर लाश के उन टुकड़ों की पूजा भी की और बाद में बिना किसी भय के लाश के उन टुकड़ों को घर की परछी के जलते चूल्हे के हवाले कर दिया. इसके बाद उसको मांस खाते भी देखा गया था. इस जघन्य घटना को अंजाम देने के बाद वह फरार हो गया. महिला की सूचना पर पुलिस ने दिलीप के खिलाफ जुर्म दर्ज कर उसकी तलाश में दिन-रात एक कर दिए. बावजूद इसके वह पुलिस की गिरफ्त में आने से 19 दिन तक बचा रहा. शनिवार की देर रात पुलिस ने आरोपी युवक को कोरबी के पास एक रिश्तेदार के घर से गिरफ्तार कर लिया है.