दलित युवक ने छू लिया था खाना, पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट, दो आरोपी गिरफ्तार

मृतक युवक के परिजनों ने पुलिस में तहरीर देकर गांव के ही दो लड़कों पर अपने बेटे की हत्या का आरोप लगाया था. जिसके बाद पुलिस ने दोनों आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है.

दलित युवक ने छू लिया था खाना, पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट, दो आरोपी गिरफ्तार

छतरपुर: छतरपुर जिले में एक दलित युवक ने कथित तौर पर ऊंची जाति के दो युवकों का खाना छू लिया था, जिससे गुस्साए ऊंची जाति के दो युवकों ने दलित की लाठी-डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी. अब पुलिस ने दोनों आरोपियों भूरा सोनी और संतोष पाल को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस हत्या और एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर दोनों की तलाश कर रही थी. दोनों को घटना के तीसरे दिन ठकुर्रा नदी के किनारे से गिरफ्तार कर लिया गया है. दोनों आरोपियों को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया.

ढाई-ढाई साल के फार्मूले को लेकर CM भूपेश बघेल का बड़ा बयान- आलाकमान कहे तो अभी इस्तीफा दे दूंगा..

परिजनों ने की थी शिकायत
मृतक युवक देवराज अनुरागी के परिजनों ने भूरा सोनी और संतोष पाल के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराई थी. जिस पर पुलिस ने दोनों युवकों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया था. अब आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है.

पहले खाना खाने से थे नाराज
गौरतलब है कि गौरिहार थाना क्षेत्र के ग्राम किशुनपुर में 7 दिसंबर की शाम भूरा सोनी और संतोष पाल ने अपने ही साथी देवराज अनुरागी की लाठियों से पीटकर हत्या कर दी थी. उसका कसूर इतना था कि उसने भूरा सोनी और संतोष पाल के खाना खाने पहले खाने को टच कर दिया था. इसके बाद दोनों उंची जाति के साथियों को यह नागवार गुजरा और उन्होंने गुस्से में आकर देवराज को लाठियों से पीटना शुरू कर दिया. आरोपियों ने पीड़ित युवक को इतना पीटा कि वह बेहोश हो गया, जिसके बाद दोनों उसे उसके घर छोड़ आए जहां उसने दम तोड़ दिया.

200 लड़कियों को नशे की लत लगाने वाली 'आंटी' पहनती है लाखों के जेवर; सीएम शिवराज ने बुलायी आपात बैठक

मुख्यमंत्री ने दिए थे सख्त कार्रवाई के निर्देश
देवराज अनुरागी की पिटाई के बाद मृत्यु होने पर मुख्यमंत्री श‍िवराज सिंह चौहान ने शोक जताते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे. उन्होंने पीड़ित परिवार को अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत आठ लाख रुपये की राशि स्वीकृत करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिया था.

WATCH LIVE TV