ग्वालियर में पकड़ा गया फर्जी पुलिसकर्मी, टोल टैक्स से बचने के लिए पहन रखी थी वर्दी

ग्वालियर में पकड़ा गया फर्जी पुलिसकर्मी, टोल टैक्स से बचने के लिए पहन रखी थी वर्दी

प्रारंभिक पूछताछ में सीताराम ने पुलिस को बताया कि वह जेल प्रहरी है और गुना से मथुरा घूमने जा रहा है. इस दौरान कार में चार अन्य लोग सवार थे. 

ग्वालियर में पकड़ा गया फर्जी पुलिसकर्मी, टोल टैक्स से बचने के लिए पहन रखी थी वर्दी

करण मिश्रा/ग्वालियरः आए दिन लोग टोल टैक्स से बचने के लिए अलग-अलग तरीके अपनाते हुए दिखते हैं, लेकिन मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर के पुरानी छावनी थाना पुलिस ने एक ऐसे युवक को गिरफ्तार किया है, जिसने टोल टैक्स से बचने के लिए पुलिस का रूप धारण कर लिया. बता दें पुलिस की गिरफ्त में खड़ा यह युवक कोई पुलिसकर्मी नहीं बल्कि एक फर्जी पुलिसकर्मी है, जिसे पुलिस ने पकड़ा है.

दरअसल, आज यहां शहर की सीमा के थाने पुरानी छावनी से होकर निकल रहा था. तभी पुलिस ने निरावली तिराहे पर चैकिंग के दौरान एक कार क्रमांक MP19 CB 3163 में सवार लोगों को संदेह होने पर रोक लिया. कार में खाकी वर्दी में सीताराम 22 वर्ष पुत्र रामवीर सिंह निवासी ग्राम बसई, थाना खैरागढ़, जिला आगरा यूपी सवार था.

मध्य प्रदेश में कांवड़ यात्रा के लिए होंगे खास इंतजाम, CM कमलनाथ ने दिए सुरक्षा व्यवस्था के निर्देश 

प्रारंभिक पूछताछ में सीताराम ने पुलिस को बताया कि वह जेल प्रहरी है और गुना से मथुरा घूमने जा रहा है. इस दौरान कार में चार अन्य लोग सवार थे. पुलिस कार सवार अन्य लोगों से बात की तो पता कि सीताराम ने उनमें से किसी एक से गाड़ी में डीजल डलवाया था तो अन्य लोगों से मथुरा तक का किराया ले लिया था. पुलिस का शक गहराया पूछताछ में सीताराम से अपने अधिकारियों से बात कराने को कहा गया तो वह टालमटोल करने लगा.

मध्य प्रदेशः सरकार के निशाने पर BJP और RSS के करीबी अफसर, बनाई जा रही है लिस्ट

इसके बाद पुलिस के सवालों के सामने ज्यादा देर टिक नहीं सका. बताया जा रहा है आरोपी सीताराम पेशे से ड्राइवर है और टोल नाकों से बचने के लिए खाकी वर्दी का इस्तेमाल करता था. फिलहाल पुलिस ने सीताराम के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ शुरू कर दी है. यह आरोपी जेल प्रहरी बनकर कार चलता था. वहीं अब यह पुलिस की गिरफ्त में है और पुलिस आरोपी से पूछताछ में जुट गई है.

Trending news