प्रेमचंद गुड्डू के बागी होने पर कैलाश विजयवर्गीय बोले, BJP में उनकी थोड़ी उपेक्षा भी हुई

आपको बता दें कि भाजपा से इस्तीफा देने के सवाल पर प्रेमचंद गुड्डू ने कहा ​कि वह  जितनी अपेक्षा कर रहे थे उसके अनुसार उन्हें पार्टी में सम्मान नहीं मिला. प्रेमचंद गुड्डू ने ज्योतिरादित्य सिंधिया और तुलसी सिलावट का जमकर विरोध किया है.

प्रेमचंद गुड्डू के बागी होने पर कैलाश विजयवर्गीय बोले, BJP में उनकी थोड़ी उपेक्षा भी हुई
भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय. (File Photo)

इंदौर: प्रेमचंद गुड्डू के भाजपा से इस्तीफा देने के मामले में कैलाश विजयवर्गीय ने बड़ा बयान दिया है. भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि प्रेमचंद गुड्डू की पार्टी में थोड़ी उपेक्षा भी हुई, लेकिन उनकी अपेक्षा भी ज्यादा थी. 

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, 'जब अपेक्षा ज्यादा होती है तो उपेक्षा भी महसूस होने लगती है. गुड्डू की अपेक्षा भी ज्यादा थी और उनकी उपेक्षा भी हुई है. ठीक है राजनीति में कुछ कह नहीं सकते. तालमेल की थोड़ी कमी थी, गुड्डू धैर्य रखते तो उनका नुकसान नहीं होता.'

COVID-19 को लेकर इंदौर से बेहद चौंकाने वाली खबर, इस उम्र के लोगों को सबसे ज्यादा खतरा

आपको बता दें कि भाजपा से इस्तीफा देने के सवाल पर प्रेमचंद गुड्डू ने कहा ​कि वह  जितनी अपेक्षा कर रहे थे उसके अनुसार उन्हें पार्टी में सम्मान नहीं मिला. प्रेमचंद गुड्डू ने ज्योतिरादित्य सिंधिया और तुलसी सिलावट का जमकर विरोध किया है. उन्होंने बीते दिनों कहा था कि उनके कांग्रेस छोड़ने की वहज भी सिंधिया थे और अब भाजपा छोड़ने की वहज भी वही हैं.

प्रेमचंद गुड्डू के इस बयानबाजी पर मध्य प्रदेश भाजपा ने उन्हें कारण बताओ नोटिस भेजा था. नोटिस के जवाब में प्रेमचंद गुड्‌डू ने कहा कि वह बीते 9 फरवरी को ही भाजपा से इस्तीफा दे चुके हैं. इधर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि उन्हें आज तक प्रेमचंद गुड्डू का इस्तीफा नहीं मिला है. आपको बता दें कि प्रेमचंद गुड्डू उज्जैन से सांसद रहे हैं. वह 2018 में कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए थे.

WATCH LIVE TV