close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेशः सीधी में बस और जीप में भिड़ंत, चार की मौत, 12 से अधिक घायल

हादसा इतना भयानक था कि जीप पूरी तरह से दब गई और उसमें बैठे लोग इसमें बुरी तरह फंस गए. हादसे की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने अन्य लोगों की सहायता से सभी लोगों को बस और जीप से बाहर निकाला.

मध्य प्रदेशः सीधी में बस और जीप में भिड़ंत, चार की मौत, 12 से अधिक घायल
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्लीः मध्य प्रदेश के सीधी जिले में एक बस और जीप की भिड़ंत में चार लोगों की मौत हो गई. जबकि एक दर्जन से भी अधिक लोग इस हादसे में घायल हो गए. जिन्हें इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल के लिए रेफर किया गया है. वहीं मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. हादसे में जहां जीप के परखच्चे उड़ गए तो वहीं बस भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई. हादसा इतना भयानक था कि जीप पूरी तरह से दब गई और उसमें बैठे लोग इसमें बुरी तरह फंस गए. हादसे की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने अन्य लोगों की सहायता से सभी लोगों को बस और जीप से बाहर निकाला और इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया है.

हाथों से छूटा भी नहीं था मेहंदी का रंग, एक हादसे ने ले ली नवविवाहिता की जिंदगी

बता दें घटना सीधी रामपुर नैकिन थाना के खड्ढी पुलिस चौकी क्षेत्र की है, जहां बस और जीप की जोरदार भिड़ंत 4 लोगों की मौत हो गई और दर्जन भर लोग घायल हो गए. वहीं मौके पर पुलिस पहुंची ने मामले की जांच शुरू कर दी है और घटना के कारणों के बारे में पता लगाने में जुटी है. हालांकि, लोगों की मानें तो घटना तेज रफ्तार की वजह से हुई है. घटना के प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो बस की रफ्तार काफी ज्यादा थी. लोगों की मानें तो ड्राइवर की लापरवाही के चलते यह हादसा हुआ है, जिसके कारण इतने लोगों की जान चली गई.

कानपुर में ट्रेन हादसे दिल्ली-हावड़ा रूट की 11 ट्रेनें रद्द, यहां देखें पूरी लिस्ट

पुलिस ने दोनों वाहनों को भी कब्जे में ले लिया है और बस के नंबर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर ली है. सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराकर पुलिस ने घायलों और मृतकों के परिजनों को भी घटना की सूचना दे दी है. बता दें इससे पहले बीते 29 नवंबर को सीधी के जिला कांग्रेस अध्यक्ष रुद्र प्रताप सिंह भी एक हादसे में बुरी तरह घायल हो गए थे, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था. हादसा उस वक्त हुआ था, जब वह पोलिंग बूथ चेक करने जा रहे थे.