close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मोमोज खाने को लेकर हुए झगड़े में चली अंधाधुंध गोलियां, एक महिला समेत 3 घायल

 इन सभी के पैर और हाथ में गोली लगी है. जिन्हें इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इनमें एक की हालत गंभीर है, जबकि दो अन्य की स्थिति सामान्य बताई जा रही है. वहीं घटना की खबर मिलने के बाद पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है.

मोमोज खाने को लेकर हुए झगड़े में चली अंधाधुंध गोलियां, एक महिला समेत 3 घायल
सांकेतिक तस्वीर

ग्वालियरः मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एक चाट के ठेले में सामान्य कहासुनी में पनपी दुश्मनी में देर रात जड़ेरुआ गोला का मंदिर में खून खराबा हो गया. एक छोटी सी बात पर दबंगों को इतना गुस्सा आ गया कि रास्ते में अंधाधुंध गोलियां बरसाना शुरू कर दिया. इसमें 3 लोग गोली लगने से जख्मी हो गए. घायलों में महिला राहगीर भी शामिल है. इन सभी के पैर और हाथ में गोली लगी है. जिन्हें इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इनमें एक की हालत गंभीर है, जबकि दो अन्य की स्थिति सामान्य बताई जा रही है. वहीं घटना की खबर मिलने के बाद पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है.

दरअसल, घटना गोला का मंदिर थाना क्षेत्र के जड़ेरुआ गांव की है. जहां मनीष यादव और नागेंद्र सोलंकी के बीच दो-तीन दिन पहले चाट के ठेले पर मोमोज खाने को लेकर झगड़ा हो गया था. इन दोनों के बीच मोहल्ले में सिक्का जमाने को लेकर अच्छी खासी ठसक चलती आ रही है. ऐसे में चाट के ठेले पर इसी मामले पर कहासुनी हो गई. उस समय विवाद को लोगों ने शांत करा दिया.

लुटेरों ने मचाया आतंक : लूट का विरोध करने पर की युवक की हत्या

ऐसे में उस दौरान तो लड़ाई शांत हो गई, लेकिन मनीष यादव ने झगड़े का बदला लेने का प्लान बनाया और जब देर रात नागेंद्र और उसके दोस्त जयवीर लोधी घर के तरफ साथ आ रहे थे. तभी उसे घेरकर गोली चला दी इन लोगों ने पिस्टल से आधा धुंध गोलियां चलाई. इसमें नागेंद्र के पैर और जयवीर की पीठ में 2 गोलियां लगी हैं.

तेज रफ्तार ट्रक ने मारी टेम्पो को टक्कर और बुझ गए एक ही घर के दो चिराग

इसके बाद भी मनीष ने फायरिंग करना बंद नहीं किया और लगातार फायरिंग करता रहा. उस वक्त गांव के रास्ते पर चहल-पहल थी. अचानक फायरिंग होने से भगदड़ मच गई. जान बचाने के लिए लोग जहां जगह वह भागे उसी वक्त एक महिला और अन्य युवक अपना काम कर वापस घर लौट रहे थे. उसी दौरान गीता नाम की महिला और रवि नाम के युवक को भी गोली लग गई. जैसे इस मामले की पुलिस को सूचना मिली तो वह मौके पर जा पहुंची और घायलों को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया. जिसमें से नागेंद्र की हालत गंभीर बताई जा रही है. फिलहाल पुलिस ने हत्या का प्रयास का मामला दर्ज कर सभी आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है.