कंबल ओढ़कर ठंड से बच रहे नागदेवता, बाकी जानवरों ने भी अपनाया ये तरीका...

शहर के बीचोबीच स्थित वन्य प्राणी संग्रहालय में जानवरों को सर्दी से बचाने के लिए यहां के स्टाफ ने व्यवस्थाएं शुरू कर दी है. पढ़िए पूरी खबर...

कंबल ओढ़कर ठंड से बच रहे नागदेवता, बाकी जानवरों ने भी अपनाया ये तरीका...
डिजाइन फोटो.

वैभव शर्मा/इंदौर: नवंबर के महीने में ठंड ने अपने तेवर दिखाना शुरू कर दिया है. इंदौर में सुबह से ही सर्द हवाएं चलने लगी हैं. वहीं रात के तापमान में भी गिरावट देखने को मिल रही है. ऐसे में चिड़ियाघर के जानवरों को ठंड से बचाने की खास व्यवस्था की जा रही है. 

ये भी पढ़ें: अगर इस तरीके से रिज्यूम तैयार करोगे तो नौकरी पक्की!!, यहां देखिए सरल भाषा में 10 टिप्स

शहर के बीचोबीच स्थित वन्य प्राणी संग्रहालय में जानवरों को सर्दी से बचाने के लिए यहां के स्टाफ ने व्यवस्थाएं शुरू कर दी है. हालांकि बड़े जानवरों को ठंड का इतना असर नहीं होता, जितना सांप, बिल्ली या पॉकेट मंकी जैसे छोटे जानवरों पर ठंड का असर बहुत जल्दी होता है.   

ठंड से बचने कम्बल में रहेंगे नाग देवता 

इंदैर ज़ू के इंचार्ज उत्तम यादव ने बताया कि सांपों को ठंड से बचाने के लिए हर साल की तरह इस बार भी वुडन बॉक्स तैयार किए जा रहे हैं, जिनके भीतर 100 वाट का बल्ब जलाकर हीट प्रोवाइड कराई जाएगी. इसके अलावा सांपों के बाड़े में कंबल रखे जा रहे हैं, जिससे वे कंबल के अंदर छिपकर ठंड से बच सकें. 

इंदौर में ठंड से ठिठुर रहे लोग

आमतौर पर राज्य के अन्य शहरों की तुलना में इंदौर में उतनी अधिक सर्दी नहीं पड़ती, लेकिन इस समय सुबह से चल रहीं सर्द हवाओं ने इंदौर वासियों को ठंड का अहसास करा दिया है. हालांकि दोपहर के वक्त पारा बढ़ने पर ठंड का अहसास नहीं होता, लेकिन रात के वक्त तापमान में गिरावट होते ही लोग ठिठुरने लगते हैं. 

ये भी पढ़ें: 25 सेकंड में देखिए बाघ की दहशतः चिल्लाकर भाग रहे हैं लोग, 2 मुश्किल से बचे

ये भी पढ़ें: 'काम करो और छुट्टी भी मनाओ', सरकार को भा रहा 'WORK from HOME', जल्द आ सकता है सिस्टम

WATCH LIVE TV