समाधान को गए कलेक्टर, समस्या बढाकर आ गए! तार फेंसिंग के चलते किसान पर FIR, जानें पूरा मामला

नरसिंहपुरः मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के नरसिंहपुर जिले (Narsinghpur) से एक मामला सामने आया. जहां कलेक्टर किसानों की समस्या सुलझाने पहुंचे, लेकिन उनकी समस्या बढ़ाकर ही आ गए.

समाधान को गए कलेक्टर, समस्या बढाकर आ गए! तार फेंसिंग के चलते किसान पर FIR, जानें पूरा मामला

नरसिंहपुरः मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के नरसिंहपुर जिले (Narsinghpur) से एक मामला सामने आया. जहां कलेक्टर किसानों की समस्या सुलझाने पहुंचे, लेकिन उनकी समस्या बढ़ाकर ही आ गए. अपनी कार्यप्रणाली को लेकर सुर्खियों में रहने वाले कलेक्टर वेदप्रकाश शर्मा (Narsinghpur Collector Ved Prakash Sharma) एक बार फिर चर्चाओं में हैं. मामला ही कुछ ऐसा है जिसे सुन कर हर कोई हैरत में रह जाएगा. 

बात करने में पड़ गया खलल
नरसिंहपुर कलेक्टर किसानों से चर्चा के उद्देश्य से रामनिवारी गांव पहुंचे. जहां किसान भानु जैन के घर चर्चा करने के दौरान अचानक साहब का फोन आ गया. फोन पर चर्चा करते हुए वह पैदल आगे बढ़ने लगे. तभी उनका पैर वहां लगी तार फेंसिग में आ गया और वह लड़खड़ा कर चोटिल हो गए. अधिकारी के गिरने से रिएक्शन भी उसी लेवल का आया, जिसकी भेंट किसान भानु जैन चढ़ गया. क्योंकि उसी के आंगन में यह तार फेंसिंग लगी थी.  

 यह भी पढ़ेंः- भिंड में बड़ा हादसा, जिला जेल की इमारत गिरी, 22 कैदी मलबे में दबे

किसान के खिलाफ दर्ज करवाया मामला
बौखलाए कलेक्टर ने SDM को निर्देश देकर भानु जैन के खिलाफ गोटेगांव थाना परिसर में सरकारी काम में बाधा डालने का मुकदमा दर्ज करवाया. थाना प्रभारी अखिलेश मिश्रा ने बताया कि क्योंकि कलेक्टर साहब गिरे और मामले की शिकायत SDM ने की, इसलिए अनाधिकृत रूप से लगाई गई तार फेंसिंग को लेकर मामला दर्ज किया गया. शासकीय कार्य में बाधा डालने के कारण भानु जैन के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू हो गई. 

इन धाराओं में दर्ज हुआ मामला
गोटेगांव थाना पुलिस ने भानु जैन के खिलाफ धारा 186 व 341 के तहत मामला दर्ज किया. जी मीडिया संवाददाता ने पीड़ित से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन वह डरा व सहमा हुआ सा लगा. वह अभी बोलने की स्थिति में नहीं लगा, लेकिन बातों से ऐसा लग रहा है जैसे किसान पर बदले की भावना से मामला दर्ज करवाया गया.

 यह भी पढ़ेंः- हत्या के इरादे से आए बदमाश, करने लगे मारपीट, महिलाओं की हिम्मत देख छूटे पसीने

समाधान के लिए गए, समस्या ही बढ़ा दी
पूरे मामले में खास बात यह है कलेक्टर साहब जिन किसानों की समस्या का समाधान ढूंढने के लिए गए थे, उन्हीं में एक किसान की समस्या उन्होंने बढ़ा दी. अब किसान के घर के आगे तार फेंसिंग थी, कलेक्टर साहब देख कर नहीं चले तो उसमें किसान की क्या गलती. पुलिस ने भी सिर्फ इस बात के लिए मामला दर्ज कर लिया क्योंकि शिकायत जिलाधीश से रिलेटेड थी और एसडीएम साहब ने की थी. 

 यह भी पढ़ेंः- मोबाइल टावर पर चढ़ा युवक! मनाते रहे लोग, समोसे-कचोरी मिलने के बाद ही आया नीचे

 

WATCH LIVE TV