महाराष्‍ट्र में कल रात 8 बजे से Lockdown जैसी पाबंदियां होंगी लागू: उद्धव ठाकरे

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र में कल रात 8 बजे से ब्रेक द चेन अभियान की शुरुआत होगी. 14 अप्रैल रात 8 बजे से पूरे राज्य में अगले 15 दिनों तक धारा 144 यानी बिना जरूरत के आना जाना प्रतिबंधित होगा. ये जनता कर्फ्यू है. आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सबकुछ बंद रहेगा.

महाराष्‍ट्र में कल रात 8 बजे से Lockdown जैसी पाबंदियां होंगी लागू: उद्धव ठाकरे

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना (Coronavirus) की बेकाबू हो चुकी रफ्तार को काबू करने के लिए प्रदेशभर में नाइट कर्फ्यू लगा है. यहां वीकेंड लॉकडाउन भी लागाए गए हैं, बावजूद इसके कोरोना के नए मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. इस बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने राज्य की जनता को संबोधित करते हुए कहा कि हमें लगा था कि हम कोरोना से जंग जीत चुके हैं लेकिन ऐसा नहीं है. कोरोना से लड़ाई अभी भी जारी है लेकिन हालात पिछले साल से काफी अलग हैं.

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य ढांचे पर बढ़ा दबाव

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘कोरोना वायरस के खिलाफ युद्ध एक बार फिर शुरू हो गया है.’ उन्होंने कहा कि कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी होने से महाराष्ट्र के स्वास्थ्य ढांचे पर दबाव काफी बढ़ गया है.

वायुसेना के विमान से हो ऑक्सीजन की आपूर्ति: CM 

सीएम ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र में ऑक्सीजन की आपूर्ति और बिस्तरों की कमी है और रेमडेसिविर की मांग बढ़ गई है. उन्होंने कहा कि केंद्र को वायुसेना के विमानों का इस्तेमाल कर राज्य में कोरोना वायरस के रोगियों के लिए ऑक्सीजन की आपूर्ति करने में मदद करनी चाहिए.

ब्रेक द चेन अभियान की शुरुआत

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि महाराष्‍ट्र में हालात बेकाबू हुए तो संभाल नहीं पाएंगे इसलिए हमें अभी से इसपर लगाम लगाना जरूरी है. उन्होंने कहा, 'मैं लॉकडाउन की बात नहीं कर रहा लेकिन जो प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं वो लॉकडाउन जैसे ही हैं. आपकी जान बचाना मेरी पहली प्राथमिकता है. महाराष्ट्र में कल रात 8 बजे से ब्रेक द चेन अभियान की शुरुआत होगी. पंढरपुर में जहां तीन-चार दिन में चुनाव है वहां कुछ दिन बाद ये प्रतिबंध लागू होंगे. 14 अप्रैल रात 8 बजे से पूरे राज्य में अगले 15 दिनों तक धारा 144 यानी बिना जरूरत के आना जाना प्रतिबंधित होगा. ये जनता कर्फ्यू है. आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सबकुछ बंद रहेगा.'

ये भी पढ़ें- UP के कई जिलों में लग सकता है Lockdown, हाई कोर्ट ने कही ये बात

क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद?

राज्य में अगले 15 दिन तक सुबह सात से रात आठ बजे तक सिर्फ अत्यावश्यक सेवाएं जारी रहेंगी. हवाई सेवाएं, लोकल ट्रेनें, बस, पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद नहीं होंगे. लेकिन ये सेवाएं सिर्फ अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों के लिए ही होंगी. पुलिस, पानी सप्लाई, महानगरपालिका के कर्मचारियों के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट चालू रहेंगे. कृषि क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए ये सेवाएं चालू रहेंगी. ऑटो और टैक्सी अत्यावश्यक सेवा से जुड़े लोगों के लिए चालू रहेंगी. बैंकिंग और ई-कॉमर्स सेवाएं चालू रहेंगी. पत्रकारों और मीडियाकर्मियों के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट चालू रहेंगे. 

सीएम ने कहा कि कंस्ट्रक्शन सेक्टर में जिन साइटों पर सुविधाएं हैं मजदूरों को वहां रखें. ऐसे में उनका आना जाना कम हो जाएगा. सीएम ने राज्य के लोगों से अपील की कि अनावश्यक घरों से न निकलें. होटल और रेस्टोरेंट टेक-अवे और होम डिलीवरी के लिए खुले रहेंगे. वहां बैठकर खा नहीं सकते. 

राशन की दुकानों से तीन किलो गेंहू और दो किलो चावल जरूरतमंदों को मुफ्त एक महीने तक दिए जाएंगे. सात करोड़ राशनकार्ड धारकों को इससे फायदा मिलेगा. अगले एक महीने तक शिवभोजन थाली योजना मुफ्त रहेगी. पहले 10 रुपये में थाली मिलती थी, फिर पांच रुपये में और अब इसे एक महीने के लिए मुफ्त कर दिया गया है. 

ये भी पढ़ें- CM योगी ने खुद को किया आइसोलेट, कोरोना संक्रमण को लेकर कही ये बात

महाराष्ट्र में कोरोना से स्थिति भयावह 

सीएम ने कहा कि अभी हमें नहीं पता कि हम कोरोना के पीक पर पहुंचे हैं या नहीं, नए मरीजों की संख्या कब तक बढ़ेगी इसके बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता. उन्होंने कहा कि हमने पिछली बार आपकी मदद से कोरोना पर नियंत्रण करके दिखाया था लेकिन इस बार की स्थिति अलग है. इस बार कोरोना के मरीज बहुत ज्यादा बढ़ रहे हैं जिसकी वजह से स्वास्थ्य सेवाओं पर बहुत ज्यादा दबाव बढ़ा है. कोरोना की संख्या जिस तरह बढ़ रही है वो भयावह है. 

MBBS छात्रों और रिटायर्ड डॉक्टरों से CM की अपील

मुख्यमंत्री ने कहा, 'प्रदेश में ऑक्सीजन बेड्स की कमी हो रही है. हम जहां जरूरत है वहां ऑक्सीजन बेड्स की संख्या, वेंटिलेटर बेड्स और आइसोलेशन बेड्स बढ़ा रहे हैं. लेकिन इन सुविधाओं को चलाने के लिए हमें ज्यादा डॉक्टर्स चाहिए. जो अभी एमबीबीएस बने हैं उनसे मेरी अपील है कि वो अपनी सेवाएं देने के लिए आगे आएं, रिटायर हो चुके डाक्टर्स से भी मैं अपील करता हूं कि वो दोबारा से अपनी सेवाएं दें. सभी राजनीतिक दलों से प्रार्थना है कि इस मौके पर राजनीति न करें.'

प्रधानमंत्री से की ये अपील

सीएम ने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी हो रही है. हमने ऑक्सीजन की कमी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद मांगी है. रेमेडेसिविर की मांग लगातार बढ़ रही है. हमने पीएम से अपील की है कि वायुसेना के विमानों का इस्तेमाल कर राज्य में कोरोना वायरस के रोगियों के लिए ऑक्सीजन की आपूर्ति करने में मदद करें क्योंकि सड़क मार्ग से दूसरे राज्यों से ऑक्सीजन लाने में दिक्कतें आ रही हैं. इसके अलावा सीएम ने कहा कि जीएसटी रिटर्न फाइल करने की डेडलाइन तीन महीने के लिए बढ़ा दी जाए. छोटे उद्यमियों को जीएसटी रिटर्न फाइल करने के लिए तीन महीने का समय और दिया जाए. 

सीएम ने कहा कि ब्रिटेन ने जिस तरह दूसरी लहर आई तो वहां लॉकडाउन लगाया गया, लेकिन दो से ढाई महीने के भीतर वहां काफी वैक्सिनेशन हुआ जिसकी वजह से मृत्यु दर कम हुई और हास्पिटलाइजेशन कम हुआ. हमें भी उसी राह पर जाने की जरूरत है.

VIDEO भी देखें-

क्या कहते हैं आकड़ें

पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में कोरोना के 51,751 नए मामले सामने आए हैं. इसके अलावा राज्य में पिछले 24 घंटे में कोरोना के चलते 258 लोगों की मौत हुई है. महाराष्ट्र में कोरोना मृत्यु दर 1.68 प्रतिशत हो गई है. यहां फिलहाल 32,75,224 लोग होम क्वारनटीन हैं और 29,399 इंस्टीट्यूशनल क्वारनटीन में हैं. 

मुंबई में कोरोना के चलते पिछले 24 घंटे में 26 लोगों की मौत हुई है. वहीं शहर में करोना के 7898 नए मामले सामने आए हैं. मुंबई में डबलिंग रेट 38 दिन है और फिलहाल 970 इमारतें सील हैं. 

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.