सुशांत केस: बिहार और महाराष्ट्र पुलिस में ठनी, दूसरे राज्य में जांच को बताया गैर कानूनी

सुशांत सिंह राजपूत खुदकुशी मामले में जांच को लेकर महाराष्ट्र पुलिस और बिहार पुलिस में टकराव देखने को मिल रहा है. 

सुशांत केस: बिहार और महाराष्ट्र पुलिस में ठनी, दूसरे राज्य में जांच को बताया गैर कानूनी

नई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) खुदकुशी मामले में जांच को लेकर महाराष्ट्र (Maharashtra Police) और बिहार पुलिस (Bihar Police) में टकराव देखने को मिल रहा है. महाराष्ट्र के गृह राज्यमंत्री शंभूराज देसाई (Shambhuraj Desai) ने इस संबंध में शनिवार को अपने बयान में बिहार पुलिस की महाराष्ट्र में जांच को गैर कानूनी बताया है.

उन्होंने कहा है कि बिहार की पुलिस बिना इजाजत के महाराष्ट्र में जांच नहीं कर सकती है. उन्हें मुंबई पुलिस पहले इस बात की जानकारी देनी होगी. वहीं सीबीआई जांच को लेकर उठ रहे सवालों पर अपने जवाब को दोहराते हुए उन्होंने कहा कि इस मामले को सीबीआई को सौंपने का सवाल ही नहीं उठता है.

देसाई ने कहा कि सुशांत केस में पहले ही दिन से महाराष्ट्र पुलिस और मुंबई पुलिस पूरी तरह से इसकी जांच कर रही है. जो-जो बातें सामने आई हैं, वो ऑन रिकॉर्ड लेकर उसका पूरा इंवेस्टिगेशन मुंबई पुलिस की तरफ से चल रहा है और ऐसे में ये मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र पुलिस लगातार यहां काम कर रही है. मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र पुलिस का नाम पूरे देश में है.

ये भी पढ़ें:- जानिए 5 का पराक्रम जिससे दहशत में हैं पीएम इमरान, पूरे पाकिस्तान में सिर्फ इसकी ही चर्चा

उन्होंने आगे कहा, 'अभी इनका इंवेस्टिगेशन चल रहा है. बहुत सारे लोगों को इसके बारे में पूछताछ के लिए बुलाया जा रहा है. इनके बयान दर्ज कर लिए गए हैं. मुंबई पुलिस लगातार जांच कर रही है और ऐसी स्थिति में ये मामला सीबीआई को देने की कोई वजह नजर नहीं आती.' उन्होंने यह भी कहा, 'बिहार की पुलिस बिना इजाजत के महाराष्ट्र में जांच नहीं कर सकते है. उन्हें मुंबई पुलिस को जानकारी देनी होगी.'

बताते चलें कि सुशांत सिंह राजपूत मामले में मुंबई पुलिस द्वारा सिर्फ एडीआर दर्ज किया गया है यानी Accidental Death Report (ADR) जो एफआईआर नहीं है, जबकि बिहार पुलिस ने इस मामले में पहली बार एफआईआर दर्ज की है, जिससे अब सीबीआई (CBI) के पास यह मामला जाने का रास्ता खुल गया है, क्योंकि बिना एफआईआर दर्ज हुए यह मामला सीबीआई के पास नहीं जा सकता था. 

ऐसे में में जांच में जुटे बिहार पुलिस के अधिकारियों को मुंबई पुलिस ने रोक दिया है और जबरन वैन में अपने साथ बिठाकर ले गई थी. बता दें कि अधिकारी शक्रवार शाम केस में जांच के लिए मुंबई पहुंचे थे. इतना ही नहीं, बिहार पुलिस के अधिकारियों को मीडिया से भी बात करने से मुंबई पुलिस ने रोक दिया था. 

LIVE TV