मुख़्तार अब्बास नकवी ने हज यात्रियों के लांच किया ऐप

अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी ने रविवार को मुंबई में हज ग्रुप ऑर्गनाइजर्स (Hajj group organizers) के साथ बैठक की. उन्हें नई हज पॉलिसी को लेकर जानकारी दी. साथ ही एक नया मोबाइल एप भी लॉन्च किया.

मुख़्तार अब्बास नकवी ने हज यात्रियों के लांच किया ऐप
अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी ने हज यात्रियों के लिए लांच किया ऐप.

मुंबई: अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी ने रविवार को मुंबई में हज ग्रुप ऑर्गनाइजर्स (Hajj group organizers) के साथ बैठक की. उन्हें नई हज पॉलिसी को लेकर जानकारी दी. साथ ही एक नया मोबाइल एप भी लॉन्च किया. इस एप के जरिये हज जाने वाले यात्रियों से सरकार उनकी सुविधाओं को लेकर फीडबैक लेगी. हज कराने वाले प्राइवेट टुअर ऑपरेटर्स मिलकर ग्रुप ऑर्गनाइजर्स वे हैं जो  के माध्यम से हज कराते हैं.

इस ऐप की मदद से जो हज ग्रुप ऑर्गनाइजर्स यात्रियों को ठीक से सुविधा नहीं देते या उनको ठगते हैं उनपर लगाम कसी जाएगी. इस बार 2 लाख लोग हज पर जाएंगे. हज कमिटी के कोटे से 1 लाख 40 हजार यात्री तो प्राइवेट टुअर ऑपरेटर्स यानी हज ग्रुप ऑर्गनाइजर्स के कोटे से 60 हजार यात्री इस वर्ष हज पर जाएंगे.

केंद्रीय मंत्री ने कहा बिना सब्सिडी के इस बार 2 लाख यात्री हज जा रहे हैं, जो देश के इतिहास में पहली बार हो रहा है. भारत दूसरा ऐसा देश है, जिसका हज कोटा सबसे बड़ा है. हज के लिए सरकार ने पहले ही एक पोर्टल शुरू किया है. हज यात्रियों को सुविधा मिले उन्हें तकलीफ न हो इसलिए सरकार ने जो हज यात्रा पॉलिसी बनाई है वो बेहद पारदर्शी है, जिससे हज यात्रियों की ठगी न हो.

21 जगहों से हज यात्री जाएंगे तकरीबन 500 फ्लाइट्स से हज यात्री जाएंगे। 4 जुलाई को दिल्ली, गया, श्रीनगर से हज फ़्लाइट शुरू होंगी और बाद में अन्य शहरों से  होगी. हज यात्रियों की सुविधा भारत सरकार की प्राथमिकता है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अनुरोध पर सऊदी क्राउन ऑफ प्रिंस ने तत्काल भारत का हज यात्रियों का कोटा बढ़ाया. आनेवाले दिनों में इस कोटे में और इजाफा होगा ये उम्मीद है. भारत सरकार ने मक्का और मदीना में भी अस्पताल शुरू किए हैं. 600 से अधिक हज कोर्डिनेटर्स जाएंगे. इस बार 2340 महिलाएं बिना महरम हज जा रही हैं। 

लाइव टीवी देखें-:

पश्चिम बंगाल की घटना पर नकवी ने जताई चिंता
केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या दुर्भाग्यपूर्ण है. हिंसा की कोई जगह नहीं है. कुछ लोग हार की हताश में ये कृत्य कर रहे हैं, जो बिलकुछ जायज नहीं है. अलीगढ़ में मासूम बच्ची के साथ जो हुआ उसकी जितनी निंदा की जाए कम है. कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

नकवी ने कहा कि राहुल गांधी हार की हताशा में हैं, इसलिए अभी भी वे कह रहे मोदी सरकार के खिलाफ नफरत फैलाने का काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने चुनाव में पाकिस्तान नहीं, बल्कि आतंकवाद के मुद्दे की बात की थी. शरद पवार गलत बातें फैला रहे हैं.