कोरोना काल में कैसा होगा संसद का मॉनसून सत्र, सिंतबर में शुरू होने की संभावना

भारतीय संसद के इतिहास में पहली बार इस तरह की व्यवस्था होगी जहां 60 सदस्य चैंबर में बैठेंगे और 51 सदस्य राज्यसभा की दीर्घाओं में बैठेंगे. इसके अलावा बाकी 132 सदस्य लोकसभा के चैंबर में बैठेंगे. 

कोरोना काल में कैसा होगा संसद का मॉनसून सत्र, सिंतबर में शुरू होने की संभावना

नई दिल्ली: संसद का मॉनसून सत्र (Monsoon Session) सिंतबर के पहले सप्ताह से शुरू हो सकता है. इस बार संभव है कि दोनों सदनों की कार्यवाही एक साथ ना चले. वहीं सोशल डिस्टेंसिंग के मद्देनजर प्रत्येक सदन के सदस्यों के बैठने के लिए दोनों चैंबरों और गैलरी का इस्तेमाल किए जाने की भी संभावना है.

संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कोरोना (Coronavirus) महामारी के मद्देनजर सत्र की तैयारियों की समीक्षा के लिए सोमवार को लोकसभा और राज्यसभा दोनों के चैंबरों का दौरा किया. इससे पहले, रविवार को राज्यसभा सचिवालय ने कहा था कि मानूसन सत्र के दौरान उच्च सदन के सदस्यों को दोनों चैंबर और गैलरी में बैठाया जाएगा.

ये भी पढ़ें:- Uttar Pradesh: सरकारी आश्रय गृह में 90 महिला कैदी Corona Positive, लक्षण किसी में नहीं

भारतीय संसद के इतिहास में पहली बार इस तरह की व्यवस्था होगी जहां 60 सदस्य चैंबर में बैठेंगे और 51 सदस्य राज्यसभा की दीर्घाओं में बैठेंगे. इसके अलावा बाकी 132 सदस्य लोकसभा के चैंबर में बैठेंगे. बताते चलें कि लोकसभा सचिवालय भी सदस्यों के बैठने के लिए इसी तरह की व्यवस्था कर रहा है. 

सूत्रों ने बताया कि आम तौर पर दोनों सदनों में एक साथ बैठकें होती हैं लेकिन इस बार असाधारण परिस्थिति के कारण एक सदन सुबह के समय बैठेगा और दूसरे की कार्यवाही शाम को होगी. गौरतलब है कि महामारी के कारण संसद के बजट सत्र की अवधि में कटौती कर दी गई थी और 23 मार्च को दोनों सदनों को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया था. परिपाटी के तहत अंतिम सत्र से छह महीने के अंत के पहले संसद का सत्र आहूत होता है.

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.