मोदी की हुंकार से इस्लामाबाद में 'हाहाकार', इमरान की 'मुसलमान' वाली 'साजिश' बेनकाब

पीएम मोदी ने कहा है कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ अत्याचार पर विपक्ष चुप क्यों है?

मोदी की हुंकार से इस्लामाबाद में 'हाहाकार', इमरान की 'मुसलमान' वाली 'साजिश' बेनकाब
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दिल्ली के रामलीला मैदान से विपक्ष और पाकिस्तान के नापाक गठबंधन का पर्दाफाश कर दिया है.

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने रविवार को दिल्ली के रामलीला मैदान से विपक्ष और पाकिस्तान (Pakistan) के नापाक गठबंधन का पर्दाफाश कर दिया है. नागरिकता कानून (Citizenship Amendment Act) पर देशभर में फैले अफवाह के भ्रमजाल को तोड़ने के साथ ही प्रधानमंत्री ने विपक्ष की भ्रम राजनीति पर भी हमला बोला. पीएम मोदी ने कहा कि पाकिस्तान के हिंदुओं के जिस दर्द को हम दुनिया के सामने रख सकते, उसे विपक्ष की राजनीति की वजह से हम नाकाम हो गए. 

दिल्ली के रामलीला मैदान से पीएम मोदी का विपक्ष और पाकिस्तान पर वार किया है. पीएम मोदी ने कहा है कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ अत्याचार पर विपक्ष चुप क्यों है? साथ ही विपक्ष पर हमला करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान की पोल खोल रहा हूं तो विपक्ष को दर्द क्यों हो रहा है? प्रधानमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान की करतूतों का वैश्विक स्तर पर खुलासा होना चाहिए था. साथ ही पाकिस्तान पर वार करते हुए उन्होंने कहा कि हमने दोस्ती की बात की लेकिन पाकिस्तान ने हमेशा धोखा दिया. 

दिल्ली के रामलीला मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इस बयान से साफ है कि पीएम मोदी पाकिस्तान की धोखे वाली नीयत से पूरी तरह वाकिफ हैं. कश्मीर मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय बेइज्जती और कूटनीति हार के बाद पाकिस्तान ने एक बार फिर युद्ध वाली गीदड़भभकी देनी शुरू कर दी है. इमरान खान ने ट्वीट कर कहा था, "मैं इस बारे में कुछ समय से अंतरराष्ट्रीय समुदाय को चेताता रहा हूं और फिर दोहराता हूं कि अगर भारत अपने घरेलू अव्यवस्था से ध्यान भटकाने और हिंदू राष्ट्रवाद के लिए युद्ध आक्रमकता को बढ़ावा देता है तो पाकिस्तान के पास माकूल जवाब देने के अलावा कोई विकल्प नहीं है." ट्विटर पर प्रधानमंत्री इमरान खान की जंग वाली गीदड़भभकी से पहले पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद अहमद ने भारत के साथ जंग की बात कही थी.

पाकिस्तान की इन गीदड़भभकी के पीछे उसका डर छिपा है. दहशत भी ऐसी की पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी सीधा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ही पहुंच गए. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में चिट्ठी लिखकर शिकायत की है कि भारत मिसाइलों का परीक्षण कर रहा है और हमें डर है कि भारत कहीं पाकिस्तान पर हमला ना कर दे. अब डरपोक पाकिस्तान का डर तो हिन्दुस्तान निकाल नहीं सकता. हां एक बात याद दिला सकते हैं कि भारत की नीति विस्तारवादी नहीं है और भारत किसी देश पर पहले हमला नहीं करता है. इस बार शाह महमूद कुरैशी ने तो UNSC को लिखी चिट्ठी में यहां तक कहा कि भारत ने मिसाइलों की सीमा पर तैनाती कर दी है. दरअसल, पाकिस्तान कश्मीर पर हार के बाद से बौखलाया हुआ है. पाकिस्तान की आर्थिक हालत गर्त पर पहुंच गई है और हिन्दुस्तानी शेर मुर्दों का शिकार नहीं करते. 

ये भी देखें: 

पाकिस्तान की डर की बड़ी वजह सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत की पाकिस्तान को दी गई चेतावनी है. जनरल रावत के मुताबिक LoC पर कभी भी हालात बिगड़ सकते हैं. LoC पर हालात बिगड़ें उससे पहले हमें हर हालात के लिए तैयार रहना होगा. पाकिस्तान UNSC में अपना डर दिखा रहा है. वो पाकिस्तान जो आतंक को पालता पोसता है. दुनियाभर में कहीं भी कोई भी आतंकी गतिविधि हो पाकिस्तान के तार उससे ज़रूर जुड़ जाते हैं और ऐसे पाकिस्तान को हिन्दुस्तान से डर लगता है.