close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पीएम मोदी का सख्त निर्देश, 'रोस्टर ड्यूटी में गैरहाजिर मंत्रियों-सांसदों के बारे में सूचित करें'

पीएम मोदी ने सांसदों से कहा कि सरकारी काम और योजनाओ में बढ़ चढ़ कर भाग लें. इसके साथ उन्होंने सांसदों को निर्देश दिया कि वह सदन में उपस्थित रहें और अपने अपने क्षेत्र में होने वाले सामाजिक कार्यों में हिस्सा लें.

पीएम मोदी का सख्त निर्देश, 'रोस्टर ड्यूटी में गैरहाजिर मंत्रियों-सांसदों के बारे में सूचित करें'
फोटो ANI

नई दिल्लीः बीजेपी संसदीय दल की बैठक में आज एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सख्त तेवर दिखाई पड़ा. आज पीएम मोदी मंत्रियो को लेकर अपनी नाखुशी जाहिर करने में कोई कोताही नहीं बरती. पीएम मोदी ने कहा, 'जो मंत्री रोस्टर ड्यूटी में उपस्थित नहीं रहते है, उनके बारे में उसी दिन शाम तक मुझे बताया जाये.' पीएम मोदी ने ये बाते संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी से कही. जाहिर है जो मंत्री अपने रोस्टर ड्यूटी से भागते है, अब उनको इसके लिये जवाब देना पड़ेगा और वो भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को. पीएम मोदी ने संसदीय दल की बैठक में ये भी कहा कि जरूरत पड़ी तो सेशन बढ़ाया जा सकता है

बता दें कि संसद का सत्र जब चलता है तब दोनों सदनों में मंत्रियो की रोस्टर ड्यूटी होती है. यानि हर मंत्री के लिये दोनों सदनों में कब अनिवार्य रूप से मौजूद रहना है, इसकी जानकारी संसदीय मंत्री की तरफ से सम्बंधित मंत्री को दे दी जाती है. लेकिन कई बार मंत्री अपने रोस्टर ड्यूटी से अनुपस्थित रहते हैं.उसी को लेकर पीएम मोदी ने अपनी नाराजगी व्यक्त की संसदीय दल में आज. जहां दोनों सदनों के सांसद मौजूद थे. इसके अलावा पीएम मोदी ने सांसदों को कहा कि वे सरकारी काम और योजनाओ में बढ़ चढ़ कर भाग ले.

पीएम मोदी ने बैठक में कहा कि सांसदों और मंत्रियों को संसद में रहना चाहिए. प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि राजनीति से हटकर भी सांसदों को काम करना चाहिए . जल संकट जो इस समय लगातार भयावह होते जा रहा है,उसके लिए भी काम करना चाहिए. अपने इलाके के अधिकारियों के साथ बैठक कर जनता की जो समस्याओं के बारे में बात करनी चाहिए.

पीएम ने कहा, 'सांसद अपने संसदीय क्षेत्र के लिए कोई एक इनोवेटिव काम भी करें. जिला प्रशासन के साथ मिलकर काम करें. राजनीति के साथ साथ सामाजिक काम करें. जानवरों की बीमारियों पर भी काम करें. टीबी, कोढ जैसे बीमारियों पर पर मिशन मोड में काम करें.'