किसी को नागरिकता का सबूत मांगने का हक नहीं, देश को CAA नहीं चाहिए: प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने नागरिकता कानून पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा रविवार को कहा कि किसी को नागरिकता का सबूत मांगने का हक नहीं, देश को नागरिकता कानून नहीं चाहिए. 

किसी को नागरिकता का सबूत मांगने का हक नहीं, देश को CAA नहीं चाहिए: प्रियंका गांधी
प्रियंका ने कहा कि भारत हम सब से मिलकर बना है, कोई कम या ज्यादा भारतीय नहीं है.

नई दिल्ली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने नागरिकता कानून पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा रविवार को कहा कि किसी को नागरिकता का सबूत मांगने का हक नहीं, देश को नागरिकता कानून (Citizenship Amendment Act) नहीं चाहिए. प्रियंका ने कहा कि भारत हम सब से मिलकर बना है, कोई कम या ज्यादा भारतीय नहीं है. गरीबों का सीधे तौर पर उत्पीड़न करनेवाले इस कानून का हम सड़क से संसद तक विरोध करेंगे.

प्रियंका ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, "अर्थव्यवस्था डूब रही है, जीडीपी कभी इतनी नीचे नहीं गई, जितनी आज है. बेरोज़गारी हद से बाहर है. प्रधानमंत्रीजी और सरकार ने ध्यान भटकाने के लिए ये कानून निकाला है. असली मुद्दों पर सरकार ध्यान दे. छात्र और जनता क्या कह रही है, उसे सुने." प्रियंका गांधी आज बिजनौर के दौरे पर हैं.

बिजनौर में प्रियंका ने नागरिकता कानून के खिलाफ हुई हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों से मुलाकात की. गौरतलब है कि नागरिकता कानून को लेकर सबसे ज्यादा हिंसक प्रदर्शन उत्तर प्रदेश में हुए हैं. प्रदेश के 21 जिलों में इंटरनेट बंद हैं. हालत सामान्य होने पर बीच बीच में खोला भी जा रहा है. कानपूर, आगरा में कल तक के लिए इंटरनेट बंद है.  

ये भी देखें:

नागरिकता कानून और एनआरसी के विरोध में कांग्रेस की कल राजघाट पर रैली है. रैली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधे समेत पार्टी के बड़े नेता शामिल होंगे. पहले यह रैली 22 दिसंबर को यानी आज होनी थी, बाद में पार्टी ने इसका आयोजन 23 दिसंबर को करने का फैसला लिया.