निशुल्‍क दवाओं के वितरण में राजस्‍थान रहा अव्‍वल

राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने दूसरे कार्यकाल के दौरान 'फ्री मेडिसिन' नामक एक महत्‍वाकांक्षी योजना की शुरूआत की थी. 

निशुल्‍क दवाओं के वितरण में राजस्‍थान रहा अव्‍वल
निशुल्‍क दवाएं पहुंचाने के मामले में राजस्‍थान को देश के दूसरे राज्‍यों से बेहतर पाया गया है. (फाइल फोटो)

जयपुर: जरूरत मंद मरीजों तक निशुल्‍क दवाएं पहुंचाने के मामले में राजस्‍थान को देश के दूसरे राज्‍यों से बेहतर  पाया गया है. केंद्र सरकार ने देश के 16 राज्‍यों की समीक्षा के बाद राजस्‍थान को निशुल्‍क दवा वितरण के मामले में अव्‍वल पाया है. इस बाबत, केंद्र सरकार की तरफर से राज्‍य सरकार को एक प्रशंसा पत्र भी जारी किया गया है. 

उल्‍लेखनीय है कि राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने दूसरे कार्यकाल के दौरान 'फ्री मेडिसिन' नामक एक महत्‍वाकांक्षी योजना की शुरूआत की थी. इस योजना के तहत, राज्‍य सरकार सभी जरूरतमंदों को निशुल्‍क दवाएं उपलब्‍ध कराती थी. इस बार राजस्‍थान में सरकार बनने के बाद मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने इस योजना को अधिक मजबूती के साथ शुरू किया. 

Live TV:

इस योजना को सफल बनाने के लिए राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. रघु शर्मा को सीधे मॉनीटरिंग करने के निर्देश दिए गए. जिसके फलस्‍वरूप, इस योजना को देश निशुल्‍क दवाओं के वितरण के मामले में सर्वोत्‍तम पाया गया है. वहीं केद्र सरकार की इस घोषणा के बाद राजस्‍थान को बधाई देने वालों का तांता लग गया है.  नेशनल हेल्‍थ मिशन, एनएचएम केंद्रीय सचिव मनोज झालानी ने भी राजस्‍थान को इस बाबत बधाई दी है.