Rajasthan में भारी बारिश से मची तबाही, पार्वती डैम के 22 में से 19 गेट खोले

पार्वती बांध (Parvati Dam) भारी बारिश के चलते लबालब हो गया है. ऐसे में सिंचाई विभाग द्वारा 19 गेटों को खोलकर बांध से पानी की निकासी की जा रही है. 

Rajasthan में भारी बारिश से मची तबाही, पार्वती डैम के 22 में से 19 गेट खोले
पार्वती डेम के 22 में से 19 गेट खोले गए.

Dholpur : राजस्थान में हुई बारिश ने लोगों को गर्मी और उमस से राहत तो दे दी, लेकिन अब ये बारिश आफत बन चुकी है. शहर से लेकर गांव तक पानी-पानी हो चुका है. आलम अब ये है कि धौलपुर जिले (Dholpur News) का सबसे बड़ा पार्वती बांध (Parvati Dam) भारी बारिश के चलते लबालब हो गया है. ऐसे में सिंचाई विभाग द्वारा 19 गेटों को खोलकर बांध से पानी की निकासी की जा रही है. सुबह से एक के बाद एक 22 गेट में से 19 गेट खोले जा चुके हैं, जिनसे 45000 क्यूसेक पानी निकाला जा रहा है.

यह भी पढ़ें : मरूधरा में मूसलाधार बारिश, सड़क बनी दरिया, गांव बने गए तालाब

सिंचाई विभाग (Irrigation Department) के एईएन राजकुमार सिंघल (Rajkumar Singhal) ने बताया कि बांध में पानी की भारी आवक जारी है. इसके चलते एक के बाद एक 19 गेट खोले गए हैं. उन्होंने बताया कि इससे पूर्व 5 साल पहले 2016 में 18 गेट खोले गए थे, लेकिन इस बार पानी की व्यापक आवक हो रही है. ऐसे में बांध के 19 गेटों से 45000 क्यूसेक पानी की निकासी की जा रही है. इसके चलते बांध के कैचमेंट एरिया (Catchment Srea) में अचानक तेजी से पानी पहुंच रहा है, जिसके चलते 2 दर्जन से अधिक गांवों के प्रभावित होने की आशंका है, इसके लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है.

धौलपुर जिले के सरमथुरा क्षेत्र में देर रात से तेज बारिश (Heavy Rain in Rajasthan) का दौर चल रहा है, जिसके चलते बांध में 223.41 भराव क्षमता के करीब पानी पहुंच गया है. इसके कारण सिंचाई विभाग के अधिकारियों को बांध के गेटों को खोलकर पानी निकासी करना पड़ा है. एक के बाद एक 19 गेट खोले गए हैं, जो बांध में पहली बार देखने को मिल रहे हैं. इस दृश्य को देखने के लिए अब लोगों की भारी भीड़ बांध पर पहुंच रही है.

रिपोर्ट : भानु शर्मा

यह भी पढ़ें : RAS और IAS के बाद अब 13 IFS अधिकारियों के तबादले, 5 को मिला अतिरिक्त चार्ज