close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान में पानी पर सियासी उबाल, दूसरे दिन भी BJP ने किया मटका फोड़ प्रोटेस्ट

राजधानी में पानी को लेकर लगातार सियासी उबाल जारी है. इसी घमासान के बीच में अब बीजेपी की पानी पर राजनीति तेज हो गई है.

राजस्थान में पानी पर सियासी उबाल, दूसरे दिन भी BJP ने किया मटका फोड़ प्रोटेस्ट
बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ जमकर हल्ला बोला और पानी की मांग की.

जयपुर: पिंक सिटी में पानी को लेकर राजनीति गर्म होती जा रही है बीजेपी की ओर से आज दूसरे दिन भी मटका फोड़ प्रदर्शन जारी रहा. सांगानेर और सिविल लाइंस के बाद में आज किशनपोल विधानसभा क्षेत्र में बीजेपी ने मटका फोड़ प्रदर्शन किया. ऐसे में अब लगातार राजधानी में पानी को लेकर सियासी घमासान मचा हुआ है. 

राजधानी में पानी को लेकर लगातार सियासी उबाल जारी है. इसी घमासान के बीच में अब बीजेपी की पानी पर राजनीति तेज हो गई है. किशनपोल विधानसभा क्षेत्र में आज बीजेपी ने नाहरगढ़ रोड से मिस्त्री खाना के जलदाय विभाग के दफ्तर तक पैदल रैली निकाली. इस दौरान सैकड़ों की तादात में बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ जमकर हल्ला बोला और पानी की मांग की. 

इस दौरान सांसद रामचरण बोहरा ने बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि यदि सरकार के पास बजट की कमी है तो सभी 25 सांसदों से सरकार पेयजल के लिए पैसा ले सकती है. उन्होंने कहा कि मैं अपने सांसद कोष से पैसा देने के लिए तैयार हूं, सरकार इसके लिए योजना बनाएं और जन-जन तक पानी पहुंचा है. इसके साथ उन्होंने यह भी कहा कि मैं अपने सांसद कोष से उन इलाकों में ट्यूबवेल खुदवाने का काम शुरू करूंगा जहां पर पानी की समस्या सबसे ज्यादा है. 

किशनपोल विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक और बीजेपी जयपुर शहर के अध्यक्ष मोहनलाल गुप्ता ने वे सरकार के खिलाफ जमकर हल्ला बोला. परकोटे की गलियों से गुजरते हुए जलदाय विभाग के दफ्तर तक पहुंचे और पानी को लेकर जबरदस्त हंगामा किया इस दौरान महिला कार्यकर्ताओं ने जलदाय विभाग के दफ्तर के बाहर खाली मटके फोड़े. मोहनलाल गुप्ता का कहना था कि पहले तीसरी मंजिल तक पानी आया करता था, लेकिन अब तो ग्राउंड फ्लोर तक ही पानी नहीं पहुंच पा रहा है ऐसे में परकोटे वासियों की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही है. यदि ऐसा ही हाल रहा तो और भी दिक्कतें आ सकती हैं. 

इस दौरान उन्होंने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि लगातार टैंकर्स की कालाबाजारी हो रही है जिस पर सरकार लगाम लगाए. परकोटे में केवल पानी की किल्लत ही नहीं बल्कि गंदे पानी की समस्या है जिसको लेकर के मोहनलाल गुप्ता और रामचरण बोहरा ने jen को मुख्यमत्री के खिलाफ ज्ञापन सौपा.