Chomu: नगर पालिका को बिजली के बिल जमा नहीं करवाना पड़ा महंगा, कटे विद्युत कनेक्शन

ट्यूबवेल कनेक्शन कटने के बाद अब शहर में पेयजल समस्या उत्पन्न हो सकती है क्योंकि कनेक्शन कटने के बाद टंकियों में पानी की सप्लाई नहीं होगी.

Chomu: नगर पालिका को बिजली के बिल जमा नहीं करवाना पड़ा महंगा, कटे विद्युत कनेक्शन
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Chomu: राजधानी जयपुर (Jaipur) में चौमूं नगरपालिका (Chomu Municipality) की लापरवाही लोगों पर भारी पड़ती नजर आ रही है. दरअसल, जलदाय विभाग (Water supply department) के बिजली के बिल जमा नहीं होने के चलते निगम के कर्मचारियों ने आज जलदाय विभाग के ट्यूबवेल के कनेक्शन काट दिए हैं. 

यह भी पढ़ें- Chomu News: विकास कार्यों में पॉलिटिक्स! BJP पार्षदों ने लगाया भेदभाव करने का आरोप

ट्यूबवेल कनेक्शन कटने के बाद अब शहर में पेयजल समस्या उत्पन्न हो सकती है क्योंकि कनेक्शन कटने के बाद टंकियों में पानी की सप्लाई नहीं होगी तो ऐसे में शहर की पेयजल सप्लाई भी बाधित हो सकती है. जलदाय विभाग के अधिकारियों ने बताया कि बिल जमा करवाने की जिम्मेदारी नगर पालिका की है. नगर पालिका में अधिशासी अधिकारी का पद लंबे समय से रिक्त चल रहा है. ऐसे में बिजली के बिल जमा नहीं होने के कारण से यह समस्या उत्पन्न हुई है. 

यह भी पढ़ें- एक बार फिर विवादों में Chomu Municipality, चेयरमैन पर लगा मनमानी का आरोप!

 

विद्युत विभाग के सहायक अभियंता अनिल सैनी (Anil Saini) ने बताया कि जलदाय विभाग के करीब 43 लाख रुपये पिछले 2 माह से बकाया चल रही है. वसूली करने के लिए कई बार विभाग को लिखा गया लेकिन फिर भी बिल जमा नहीं करवाए गए. ऐसे में निगम को कनेक्शन काटने के लिए मजबूर होना पड़ा है. इधर इस पूरे मामले को लेकर विधायक रामलाल शर्मा ने भी नगर पालिका प्रशासन को घेरा है. उन्होंने कहा कि पालिका प्रशासन की लापरवाही शहर के लोगों पर भारी पड़ती नजर आ रही है. 

ऐसे में नगर पालिका प्रशासन की मानसिकता पर भी सवाल खड़ा होता है. जरूरत इस बात की है कि नगर पालिका के अधिकारियों और चेयरमैन को इस समस्या का समाधान करने का कदम उठाना चाहिए. नगर पालिका प्रशासन जल्द ही निगम के बकाया बिल जमा करवाएं और कनेक्शन जुड़वा कर जनता को राहत दे.

Reporter- Pradeep Soni