close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गर्मी के कारण राजस्थान में पर्यटन उद्योग हुआ बेहाल, दिख रहा सन्नाटा

पिछले एक सप्ताह में सैलानियों की संख्या में 50 फीसदी की कमी दर्ज की गई है. 

गर्मी के कारण राजस्थान में पर्यटन उद्योग हुआ बेहाल, दिख रहा सन्नाटा
इस वर्ष अप्रैल के 25 दिनों में सबसे कम पर्यटक जयपुर आए हैं. (प्रतीकात्मक फोटो)

जयपुर: भीषण गर्मी ने राजधानी जयपुर सहित प्रदेश के पर्यटन उद्योग की कमर तोड़ दी है. राज्य में बढ़ते पारे के कारण विदेशी और घरेलू पर्यटकों की संख्या में काफी कमी देखी जा रही है. बदलते मौसम के कारण कई पर्यटकों ने अपना रिजर्वेशन कैंसिल करवा दिया है. पिछले एक सप्ताह में सैलानियों की संख्या में 50 फीसदी की कमी दर्ज की गई है.

राजधानी जयपुर सहित पूरे प्रदेश में इन दिनों पर्यटक स्थलों पर सन्नाटा पसारा हुआ दिखाई दे रहा है. गर्मी के तीखे तेवर का पर्यटन उद्योग पर काफी असर पड़ा है. पर्यटन विभाग से जुड़े लोगों ने बताया कि इस वर्ष अप्रैल के 25 दिनों में सबसे कम पर्यटक जयपुर आए हैं. पिछले 5 वर्षों में प्रदेश के पर्यटक स्थलों पर काफी विकास हुआ है लेकिन ये सभी सुविधाएं गर्मी से निजात दिलाने में नाकाफी साबित हो रही है.

होली के बाद से ही गर्मी दिखा रही तेवर
प्रदेश में सितंबर से अप्रैल को पर्यटन का सीजन माना जाता है. लेकिन इस बार गर्मी ने होली के बाद से ही अपने तेवर दिखाना शुरू कर दिया. जिस कारण पर्यटकों की संख्या में काफी कमी दिख रही है.

बता दें, राज्य के आमेर महल को देखने प्रदेश में सर्वाधिक पर्यटक आते हैं. इस साल 1 अप्रैल को आमेर आने वाले पर्यटकों की संख्या 4700 से ज्यादा थी. जबकि 25 अप्रैल तक यह संख्या ढाई हजार तक पहुंच गई है.