close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राज्यपाल कल्याण सिंह बोले, 'देश की तरक्की के लिए गांव का स्मार्ट होना जरूरी'

राजस्थान के राज्यपाल कल्याणसिंह ने कहा कि सड़क, खेतों की सिंचाई, शिक्षा, बिजली, स्वास्थ्य, सुरक्षा, स्वरोजगार व स्वावलंबन के कार्य पूरे होने पर गांव स्मार्ट हो जाएंगे.

राज्यपाल कल्याण सिंह बोले, 'देश की तरक्की के लिए गांव का स्मार्ट होना जरूरी'

जयपुर: राजस्थान के राज्यपाल कल्याणसिंह ने कहा कि देश की तरक्की के लिए गांव का स्मार्ट होना जरूरी है. इसके लिए ध्येय और जज्बा जरूरी है. राज्यपाल बुधवार को जोधपुर सर्किट हाऊस में ग्रामीणों से संवाद कर रहे थे. उन्होंने कहा कि अगर गांव को स्मार्ट बनाना है तो ये 8 कार्य करने होंगे. इसके अंतर्गत सड़क, खेतों की सिंचाई, शिक्षा, बिजली, स्वास्थ्य, सुरक्षा, स्वरोजगार व स्वावलबंन है. जिस दिन ये 8 कार्य पूरे हो जाएंगे उस दिन गांव स्मार्ट ही नहीं बल्कि गांवों से शहर का पलायन भी रूक जाएगा.

पुलिस विश्वविद्यालय ने पौधारोपण के लिए दिए एक लाख रुपये
राज्यपाल ने कहा कि पुलिस विश्वविद्यालय द्वारा गांव गोद लेने के बाद बदलाव हुआ है. ग्रामीणों ने कहा कि विश्वविद्यालय का पूर्ण सहयोग मिला तथा अधिकारियों एवं स्टाफ ने लगातार संपर्क बनाए रखा और गांव-गांव, गली-गली घूमकर स्वच्छता व शौचालय बनाने के कार्य भी किए. पशुओं के बारे में भी जानकारियां दीं. ग्रामीणों ने बताया कि विश्वविद्यालय ने पौधारोपण के लिए 1 लाख रूपये की राशि भी दी. सीमा से लगते रोड के कनेक्शन हो गए. पानी तो नमकीन है मगर वर्षा जल संग्रहण के लिए तालाब बने हुए है. गांव में बिजली आती है व दवाईयां भी पूरी मिलती है. स्वरोजगार में कृषि एवं मजदूरी के साधन है. 

 

5 नौजवानों को दी गांव में साफ-सफाई की जिम्मेदारी
राज्यपाल की संवेदनशीलता व गांवों के प्रति उनका बेहतरीन सोच है और इसीलिए उन्होंने गांवों के 5 नौजवान मौके पर ही चयनित किए. उन नौजवानों को यह जिम्मेदारी दी कि आप लोग ध्यान रखेंगे कि गांव में गंदगी नहीं हो, किसी प्रकार का नशा नहीं हो तथा निरक्षरता नहीं रहे. बेटियों के पढ़ाने के सवाल पर छात्राओं ने कहा कि 10 वीं तक तो काफी छात्राएं है तथा 11 वीं व 12 वीं कक्षाएं तो खुल गई मगर अभी घरवालों में भेजने पर हिचकिचाहट है. इस पर राज्यपाल ने कहा कि कन्या की शिक्षाओं पर ज्यादा ध्यान दें. 

जिला कलेक्टर और शिक्षा व संबंधित अधिकारियों से उन्होंने कहा कि आप लोग स्वयं मौके पर जाएं तथा बेटियों को पढ़ाना आवश्यक है, यह समझाएं. उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि लड़की पढ़ती है तो एक नहीं दो परिवार शिक्षित होते है. उन्होंने कहा कि स्मार्ट विलेज में पानी के लिए तालाब जरूरी है. पानी राज्य में समस्या है मगर नरेगा में तालाब चौड़ा व गहरा करवाने के कार्य पर बल दें. उन्होंने कहा कि अपना गांव सुधारने को गांव वालों को ही समर्पण के साथ काम करना है, बाहर वाले तो केवल सहयोग कर सकते है.