Kota में ऑक्सीजन प्लांट के बाहर बिलखते रहे परिजन, मरीज के लिए नहीं मिली Oxygen

कोटा ऑक्सीजन लिमिटेड (Kota Oxygen Limited) के सामने ऑक्सीजन के लिए मरीजों के परिजन बिलखते रहे लेकिन उन्हें ऑक्सीजन नहीं दी गई.

Kota में ऑक्सीजन प्लांट के बाहर बिलखते रहे परिजन, मरीज के लिए नहीं मिली Oxygen
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Kota: एक तरफ महामारी मरीजों की सांसें छीन रही है, दूसरी तरफ प्रशासनिक अव्यवस्थाएं मरीजों की जान पर भारी पड़ रही हैं. ऑक्सीजन (Oxygen) के लिए लगातार जद्दोजहद चल रही है.

यह भी पढ़ें- Kota में रेलवे कर्मचारियों पर Corona का कहर, 30 हुए संक्रमित, 3 की मौत

 

देर रात भी कोटा में कोटा ऑक्सीजन लिमिटेड (Kota Oxygen Limited) के सामने ऑक्सीजन के लिए मरीजों के परिजन बिलखते रहे लेकिन उन्हें ऑक्सीजन नहीं दी गई.

यह भी पढ़ें- Kota में श्मशान घाट पर शवों की कतार, एक दिन में 21 कोरोना मृतकों का अंतिम संस्कार

माइनिंग विभाग में काम करने वाले एक परिजन ने बताया कि उसका मरीज घर पर है, जिसके लिए वह ऑक्सीजन लेने के लिए दर-दर भटक रहा है. कभी प्लांट तो कभी मेडिकल कॉलेज के चक्कर काट रहा है और उसे ऑक्सीजन प्लांट से भी ऑक्सीजन नहीं दी जा रही है.

वहीं, मौके पर जमा अन्य लोगों ने भी बताया कि उन्हें सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक ही ऑक्सीजन देने का हवाला दिया जा रहा है. देर रात 12 बजे तक मरीजों के परिजन ऑक्सीजन प्लांट के बाहर गिड़गिड़ाते रहे लेकिन उनकी किसी ने नहीं सुनी और इस दौरान उनके मरीज सिर्फ भगवान भरोसे थे क्योंकि किसी जिम्मेदार ने उनकी मदद के लिए जहमत नहीं उठाई.

Reporter- KK Sharma