कोटा मेगा हाईवे पर बजरी से भरे ट्रैक्टर के पलटने से फिर सवालों के घेरे में स्थानीय पुलिस

बजरी के बीच सड़क में गिर जाने के कारण मेगा हाइवे पर यातायात जाम लग गया जिससे सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई. 

कोटा मेगा हाईवे पर बजरी से भरे ट्रैक्टर के पलटने से फिर सवालों के घेरे में स्थानीय पुलिस
प्रतीकात्मक तस्वीर

कोटा: मलारना डूंगर थाना क्षेत्र के लालसोट कोटा मेगा हाईवे पर गुरुवार देर रात को बजरी से भरे ट्रेक्टर ट्रॉली के पलटने के बाद स्थानीय पुलिस की कार्यप्रणाली सवालों के घेरों में है. दरअसल, गुरुवार रात को करीब दस बजे भाड़ौती पुलिस चौकी सामने तेज रफ्तार से आ रही ट्रैक्टर ट्रॉली पलट गई. हालांकि, इस हादसे में किसी तरह की जानमान की हानि नहीं हुई लेकिन बजरी से भरे ट्रैक्टर के अचनाक पलटने के कारण रात के वक्त यातायात काफी प्रभावित हुआ. 

बजरी के बीच सड़क में गिर जाने के कारण मेगा हाइवे पर यातायात जाम लग गया जिससे सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई. जानकारी के मुताबिक पुलिस से बचने के कारण तेज रफ्तार ट्रॉली पलट गई लेकिन सवाल यह है कि आखिर सर्वोच्च न्यायालय की बजरी खनन और परिवहन पर रोक के बावजूद यहां रात के अंधेरे में बजरी के ओवरलोड वाहनों का संचालन किसके इशारे पर हो रहा है. इसका जवाब किसी के पास नही है. 

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार लालसोट कोटा मेगा हाईवे पर रात को बजरी से भरी औवरलोड ट्रैक्टर ट्रॉली भाड़ौती पुलिस चौकी के सामने पलट गई. बीच सड़क पर बजरी से भरी ट्रॉली पलटने से हाइवे जाम लग गया. चौकी के मुख्य दरवाजे के बाहर जब वाहनों की कतार लगी तो स्थानीय पुलिसकर्मी ने घटना पर ध्यान दिया. जिसके बाद पुलिस ने आनन-फानन में हाइवे पर पड़ी ट्रैक्टर ट्रोली को एक तरफ कर यातायात सुचारू करवाया. इस दौरान पुलिस ने ट्रैक्टर ट्रॉली को जब्त कर चौकी परिसर में खड़ा किया है. पुलिस का कहना है कि हादसे के बाद चालक मौके से फरार हो गया.