close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पंजाब से राजस्थान की नहरों में आ रहा है प्रदूषित पानी, राज्य सरकार मौन

स्थानीय लोगों का आरोप है कि हर सरकार चुनाव से पहले तो इस समस्या के समाधान का दावा करती है लेकिन बाद में कोई नजर नहीं आता.

पंजाब से राजस्थान की नहरों में आ रहा है प्रदूषित पानी, राज्य सरकार मौन
पंजाब से आने वाला पानी बहुत दूषित है. (प्रतीकात्मक फोटो)

श्रीगंगानगर: राजस्थान के सरहदी जिले श्रीगंगानगर के लोगों की पानी की समस्या कम होने का नाम नहीं ले रही है. पेयजल और सिंचाई दोनों के लिए ही पंजाब से आने वाली नहरों पर निर्भर हैं. लेकिन पंजाब से पिछले कई वर्षो से लगातार नहरों में प्रदूषित पानी छोड़ा जा रहा है. जिस कारण जिले के लोगों को पेयजल और सिंचाई के लिए प्रदूषित पानी का प्रयोग करना पड़ता है.

बताया जा रहा है कि यहां नहरों में आपूर्ति होने वाली पानी में पड़ोसी राज्य पंजाब की कारखाने और फैक्ट्रियां कैमिकल युक्त अपशिष्ट को नहर में डाल देते है. जिस कारण यहां यह समस्या हो रही है.

फ़िल्टर करने के बावजूद नहीं निकल पाते केमिकल्स 
इस संबंध में स्थानीय डाक्टर बीबी गुप्ता ने बताया कि पंजाब से आने वाला पानी बहुत दूषित है. जो शरीर के अलग अलग अंगो पर कई प्रभाव डालता है. उन्होंने यह भी बताया कि दूषित पानी को फ़िल्टर करने के बावजूद उसमें से केमिकल नहीं निकल पाते. जिस कारण लोगो को कैंसर, हैजा, हेपेटाइटिस जैसे बीमारियां हो सकती है. 

आम लोगों ने लगाया आरोप
आपको बता दें कि, स्थानीय लोगों ने राज्य सरकार के सामने इस मामले को कई बार उठाया है. लेकिन राज्य सरकार ने अब तक इस पर कोई एक्शन नहीं लिया है. स्थानीय लोगों का आरोप है कि हर सरकार चुनाव से पहले तो इस समस्या के समाधान का दावा करती है लेकिन बाद में कोई नजर नहीं आता.