पुलवामा अटैक: डेंटल कॉलेज की छात्रा ने डाला आपत्तिजनक पोस्ट, कैंपस में मचा बवाल

बताया जा रहा है कि व्हाट्सएप पर स्टेटस लगाने वाली छात्रा आमेर के जयपुर डेंटल कॉलेज में फाइनल ईयर की स्टूडेंट है

पुलवामा अटैक: डेंटल कॉलेज की छात्रा ने डाला आपत्तिजनक पोस्ट, कैंपस में मचा बवाल
छात्रा ने आतंकवादी का स्टेटस व्हाट्सएप पर लगाया था

जयपुर: प्रदेश की राजधानी के निम्स यूनिवर्सिटी के बाद अब आमेर के जयपुर डेंटल कॉलेज में एक कश्मीरी छात्रा द्वारा राष्ट्र विरोधी स्टेटस लगाने पर हंगामा शुरू हो गया है. खबर के मुताबिक छात्रा ने आतंकवादी का स्टेटस व्हाट्सएप पर लगाया था. स्टेटस पर आतंकवादी की फोटो के साथ लिखा 'बहुत याद आ रही है भाई'. 

बताया जा रहा है कि व्हाट्सएप पर आपत्तिजनक स्टेटस लगाने वाली छात्रा आमेर के जयपुर डेंटल कॉलेज में फाइनल ईयर की स्टूडेंट है. इसके बाद से ही  छात्रा के विरोद में सैकड़ों की संख्या में डेंटल कॉलेज के छात्र कॉलेज के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.  

गौरतलब है कि निम्स यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाली कश्मीरी छात्राओं ने पुलवामा की घटना के बाद आपत्तिजनक पोस्ट सोशल मीडिया पर डाला था, जिसके बाद स्थानीय पुलिस ने आरोपी छात्राओं को हिरासत में लिया था. बताया जा रहा था कि इन कश्मीरी छात्राओं को यूनिवर्सिटी प्रशासन ने पुलिस के सुपर्द किया था. पोस्ट वायरल होने के बाद इन छात्राओं के खिलाफ यूनिवर्सिटी में नारे भी लगे थे. इस घटना के कारण यहां पढ़ने वाले अन्य छात्र-छात्राओं और स्थानीय लोगों मे भारी आक्रोश था. सूत्रों के अनुसार, यूनिवर्सिटी प्रशासन आरोपी 4 कश्मीरी छात्राओं को देश विरोधी गतिविधियों में संलिप्त पाए जाने के कारण निलंबित कर चुकी है.

आपको बता दें कि, निम्स यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाली कश्मीर की चार छात्राओं ने पुलवामा की घटना का समर्थन करते हुए सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया था. जिसमें उन्होंने पुलवामा की घटना पर लस्सी के साथ फोटो शेयर की थी. जिसमें लिखा था 'हमारा बाहर में चल रहे विरोध का जवाब'  #pulwama attack लिखा था. जिसकी जानकारी होने के बाद आक्रोशित लोगों ने निम्स यूनिवर्सिटी के दरवाजे बन्द कर दिया. घटना की जानकारी होने के बाद जयपुर की चन्द्ववाजी थाना पुलिस मौके पर पहुंची थी.

सूत्रों के अनुसार, पुलवामा की घटना के बाद वॉट्सऐप पर इसे सही ठहराते हुए फोटो के साथ इस संदेश को भी डाला गया था. जिसके बाद उन्हें यूनिवर्सिटी ने कॉलेज और हॉस्टल से तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया था. उल्लेखनीय है कि पुलवामा में गुरुवार को बर्बर आतंकी हमले में देश के 40 जवान शहीद हो गए जिनमें पांच राजस्थान के थे.