close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाली: जवाई बांध में पानी नहीं होने से बढ़ा संकट, अब तक नहीं पहुंची वाटर ट्रेन

पानी की उपबल्धता कम रहने के कारण 96 घंटे के अंतराल में इसकी आपूर्ति हो रही है.

पाली: जवाई बांध में पानी नहीं होने से बढ़ा संकट, अब तक नहीं पहुंची वाटर ट्रेन
पाली के एमपी ने जल्द संकट सुलझाने का दावा किया है. (फाइल फोटो)

पाली: पाली जिले में पेयजल की आपूर्ति करने वाली जवाई बांध में पानी का संकट बढ़ता जा रहा है. बताया जा रहा है कि जिले के सारे बांध खाली हो चुके हैं. जिस कारण पानी की आपूर्ति डेड स्टोरेज से की जा रही है.

सूत्रों के अनुसार, पानी की उपबल्धता कम रहने के कारण 96 घंटे के अंतराल में इसकी आपूर्ति हो रही है. इसके अलावा ग्रामीण इलाकों में भी इस कारण पेयजल की आपूर्ति का काफी संकट काफी बढ़ गया है.

वैसे पाली के एमपी पीपी चौधरी का दावा है कि पेयजल संकट से ग्रस्त पाली शहर की समस्या का निवारण गुरुवार से हो जाएगा. चौधरी ने जवाई बांध में घटते जल स्तर पर जताई चिंता जताते हुए कहा कि वाटर ट्रेन शुरू करने की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी है. जिसमें शुरुआत में तीस टैंकर की रैक में पंद्रह लाख लीटर पानी एक बार में पाली भेजा जाएगा.

लाइव टीवी देखें-:

उन्होंने कहा कि जवाई बांध के स्थाई समाधान के लिए साबरमती बेसिन पर टनल बनाकर पुनर्भरण किया जा सकता है. चौधरी को उम्मीद है जल्द इस योजना को जलशक्ति मंत्रालय मंजूरी दे देगा.

वैसे, पानी के संकट से निपटने के लिए जलदाय विभाग के दावे भी धरातल पर सच होंगे दिखाई नहीं दे रहे. 24 जुलाई को पाली में पानी की सप्लाई की बात कही थी. लेकिन रेल वैगन जोधपुर तक भी नहीं पहुंचे. बताया जा रहा है कि वैगन बाड़मेर समदड़ी जंक्शन पर खड़े है.