कोटा: एसीबी के सामने अजीबो-गरीब मामला, जेईएन ने परिवादी को बनाया बंधक, जलाया रिकॉर्डर

प्रदेश में ताबड़तोड़ कार्रवाई करने वाली कोटा एसीबी टीम के सामने आज एक अजीबो-गरीब मामला आया.

कोटा: एसीबी के सामने अजीबो-गरीब मामला, जेईएन ने परिवादी को बनाया बंधक, जलाया रिकॉर्डर
कोटा एसीबी

कोटा: प्रदेश में ताबड़तोड़ कार्रवाई करने वाली कोटा एसीबी टीम के सामने आज एक अजीबो-गरीब मामला आया. बिजली विभाग के जेईएन की ट्रैपिंग के दौरान एसीबी की टीम परिवादी का इशारा मिलने के इंतजार में घात लगाकर बैठी थी. इतने में आरोपी जेईएन को शक हो गया और उसने परिवादी की जेब से रिकॉर्डर निकाल कर उसे जला दिया. साथ ही परिवादी को बंधक बना लिया. बाहर इंतजार कर रही एसीबी को जब परिवादी का कोई इशारा नहीं मिला तो उन्होंने मौके पर जाकर देखा तो आरोपी जेईएन ने परिवादी को जबरन बैठाकर रखा हुआ था. 

ये मामला कोटा ग्रामीण के चेचट इलाके में सामने आया. जहां परिवादी रतिराम ने कोटा एसीबी को परिवाद देते हुए कहा था कि उसकी एक आटा चक्की है उसमें वीसीआर भरने की धमकी देकर बिजली विभाग का जेईएन अजय बसवाल उससे 20 हजार की रिश्वत मांग रहा था. वो परेशान हो चुका था तो उसने कोटा एसीबी को इसकी शिकायत दी थी.

जिसके बाद एसीबी ने JVVNL जेईएन अजय बसवाल को ट्रेप करने के लिए एक योजना बनाई और रिश्वत कि राशि लेकर परिवादी को उसके पास भेजा, जहां परिवादी पर बातचीत के दौरान जेईएन को शक हो गया और उसने परिवादी की जेब से रिकॉर्डर निकाल कर तोड़ दिया और परिवादि रतिराम को बंधक बना लिया. कोटा एसीबी की टीम के सीआई दलवीर फौजदार ने आरोपी जेईएन अजय बसवाल के खिलाफ चेचट थाने में बंधक बनाने और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का मुकदमा दर्ज करवाया है.

पत्रकारों से बातचीत करते हुए एसीबी के एडिशनल एसपी चंद्रशील ने बताया कि रिकॉर्डर के डाटा की रिकवरी करवाई गई है, जिसमें घटना के दौरान जेईएन अजय द्वारा परिवादी रतिराम को धमकाने और एसीबी में शिकायत करने के लिए आपत्तिजनक बातें रिकॉर्ड मिली है जो काफी महत्वपूर्ण है. अब इस रिकॉर्डिंग के आधार पर कोटा एसीबी ने जयपुर मुख्यालय को रिश्वतखोर के मामले की FIR दर्ज करने के लिए प्रकरण भेजा है. वहीं मामले की गंभीरता को देखते हुए चेचट पुलिस ने आरोपी जेईएन अजय बसवाल को गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपी जेईएन के खिलाफ चेचट थाने में मुकदमा दर्ज करवाया गया है. साथ ही रिकॉर्डर में काफी आपत्तिजनक बातें रिकॉर्ड हुई है, जिनके आधार पर आरोपी जेईएन के खिलाफ रिश्वतखोरी का मुकदमा दर्ज करवाया जाएगा.