चर्चा में है जयपुर शहर में करप्शन के खिलाफ लगी पोस्टर, मंत्री दे रहे हैं सफाई

इस तरह के पोस्टर शहर के रामबाग सर्किल, अंबेडकर सर्किल, पोलो ग्राउंड, स्टैचू सर्किल, सेंट्रल पार्क, नारायण सिंह सर्किल और जेडीए के बाहर लगा है.

चर्चा में है जयपुर शहर में करप्शन के खिलाफ लगी पोस्टर, मंत्री दे रहे हैं सफाई
पोस्टर में परिवहन विभाग पर कई आरोप लगाए गए हैं.

जयपुर: राजधानी जयपुर में भ्रष्टाचार के खिलाफ लगी होर्डिंग और पोस्टर चर्चा का विषय बना हुआ है. परिवहन विभाग में व्याप्त कथित भ्रष्टाचार के खिलाफ यह पोस्टर शहर के रामबाग सर्किल, अंबेडकर सर्किल, पोलो ग्राउंड, स्टैचू सर्किल, सेंट्रल पार्क, नारायण सिंह सर्किल और जेडीए के बाहर लगा है. माना जा रहा है कि रात के अंधेरे में किसी अज्ञात शख्स ने यह पोस्टर लगाए हैं. 

यह पोस्टर इस लिए भी चर्चा का विषय बने हैं, क्योंकि सेंट्रल पार्क में कई अधिकारी और बड़े राजनीतिज्ञ मॉर्निंग वॉक के लिए आते हैं. ऐसे में उनकी नजर भी इस पोस्टर पर जरूर पड़ी होगी. पोस्टर में राज्य में व्याप्त भ्रष्टाचार को लेकर कई बातें लिखी गई है. जिसमें मलाईदार स्थानों पर तबादले के लिए लाखों की बोली की बात शामिल है. 

परिवहन मंत्री का करप्शन पर लगाम लगाने का दावा

इस बीच इस पोस्टर वॉर मामले पर परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने अपने बयान में पिछली सरकार में परिवहन माफिया के विकसित होने की बात कही है. खाचरियावास ने कहा है कि राज्य में नई सरकार परिवहन माफियाओं की सफाई कर रही है. इसके अलाव भ्रष्ट अधिकारियों को राज्य से हटाने के लिए काम चल रहा है. 

उन्होंने कहा कि अगर सच में भ्र्ष्टाचार की शिकायत किसी को करनी है तो एसीबी या कोर्ट में जाकर करे. राज्य सरकार भ्रष्ट्राचारियों पर लगाम लगाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है. विभाग में सक्रिय परिवहन माफियाओं और भ्र्ष्ट अधिकारियों पर नकेल कसी जा रही है.