close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

टोंक: शराब के नशे में हुआ झगड़ा, भतीजे के हाथों हुई ताऊ की हत्या

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विपिन शर्मा ने बताया कि शराब के नशे में लाखन वाल्मिकी व उसके भतीजे रवि के साथ झगड़ा हो गया

टोंक: शराब के नशे में हुआ झगड़ा, भतीजे के हाथों हुई ताऊ की हत्या
नशे में धुत्त युवक ने अपने ताऊ की हत्या कर दी.

पुरूषोत्तम टोंक: शहर में बढ़ती नशे की लत, परिवारों को कर्जे में तो डूबों ही रही है और अब जान भी लील रही है. शहर के चौराहों पर खुलेआम बिकता नशे का सामान, शहर के युवाओं से लेकर हर किसी को अपना शिकार बना रहा है. ताजा मामला फिर से पुरानी टोंक इलाके में सामने आया. जहां नशे में धुत्त युवक ने अपने ताऊ की हत्या कर दी. 

टोंक शहर के पुरानी टोंक थाना क्षेत्र में शराब के नशे में झगड़े होने पर मारपीट के दौरान युवक के हाथों ताऊ की हत्या हो गई. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी तुरंत मौके पर पहुंची. पुलिस ने धटनास्थल पर पहुंचते ही कार्यवाही शुरू की. जानकारी के अनुसार शहर के पुरानी टोंक थाना क्षेत्र में पंचकुईया दरवाजा टोंक में रहने वाले लाखन वाल्मिकी ताऊ एवं भतीजे रवि वाल्मिकी के बीच किसी बात को लेकर कहा-सुनी होने के चलते शराब के नशे में झगड़ा इतना बढ़ गया कि इस झगड़े में रवि वाल्मिकी के हाथों मारपीट के दौरान उसकी हत्या हो गई. 

इस घटना की सूचना मिलते अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विपिन शर्मा, पुलिस उपाधीक्षक रामकल्याण व पुरानी टोंक पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची. पुलिस कार्यवाही करते हुए मामले की जानकारी लेकर मृतक लाखन का शव सदर अस्पताल में मुर्दाघर में रखवा दिया. इस मामलें में पुलिस ने कार्यवाही शुरु कर दी है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विपिन शर्मा ने बताया कि शराब के नशे में लाखन वाल्मिकी व उसके भतीजे रवि के साथ झगड़ा हो गया और इस झगड़े के दौरान लाखन की मौत हो गई.

आप शहर में जहां चाहे वहां से स्मैक, गांजा, चरस जब भी खरीदना चाहे आसानी से खरीद सकते है. यहां तक की रात आठ बजे बाद जितनी भी शराब आप खरीदना चाहे वो भी आपकों आसानी से मिल जाएगी. सवाल यह है कि जब आम आदमी को नशे का सामान मिल रहा है, तो पुलिस का बिट सिस्टम कर क्या रही है. क्या पुलिस के आलाधिकारियों को इसकी भनक तक नहीं है या फिर नशे में भी बंदी वसूली का खेल चल रहा है. फिलहाल तो एक परिवार में मातम पसरा हुआ है. ऐसा ना हो कि शहर में मातम के सिवाय कुछ और बच ही नहीं पाए.