नागरिकता विधेयक का विरोध करना असम की संस्कृति और सभ्यता पर हमला है: हेमंत बिस्वा सर्मा

असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने पुलवामा आतंकवादी हमले की तुलना मुगलों के हमले से की है. 

नागरिकता विधेयक का विरोध करना असम की संस्कृति और सभ्यता पर हमला है: हेमंत बिस्वा सर्मा
गुवाहाटी में एक रैली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोलते हुए रविवार को कहा कि विपक्षी पार्टी देश के लोकतंत्र को मजबूती नहीं दे सकती. (फाइल फोटो)

लखीमपुरः असम के वित्त मंत्री हेमंत बिस्व सर्मा ने रविवार को कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक का जो विरोध कर रहे हैं वे असम की संस्कृति और सभ्यता पर ‘हमला’ करना चाहते हैं. भारतीय जनता युवा मोर्चा (बीजेवाईएम) की एक रैली को संबोधित करते हुए सर्मा ने दावा किया कि आगामी लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी असम में 14 में से 10-11 सीटें जीतेंगी.यहां इस रैली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी उपस्थित थे. 

भारत और ईरान आतंकवाद का मुकाबला करने में करीबी सहयोग करने पर हुए सहमत

वहीं असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने पुलवामा आतंकवादी हमले की तुलना मुगलों के हमले से की है. उन्होंने कहा, ‘‘ हमें आज भी मुगलों के खिलाफ लड़ाई जारी रखनी होगी.मुगलों के हमले अभी खत्म नहीं हुए और कश्मीर की घटना इसका सबूत है.’’ गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बीते गुरूवार को हुए हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है. मुख्यमंत्री रविवार को यहां भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में भाजयुमो की रैली को संबोधित कर रहे थे. सोनोवाल ने कहा, ‘‘कश्मीर की हालिया घटना भारत पर एक इस्लामी आतंकी हमला है. हमारे बहादुर जवान शहीद हुए और मैं उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं.’’

शबाना आजमी और जावेद अख्‍तर ने ठुकराया न्‍यौता तो बौखलाया पाकिस्‍तान

गुवाहाटी में एक रैली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोलते हुए रविवार को कहा कि विपक्षी पार्टी देश के लोकतंत्र को मजबूती नहीं दे सकती और उसके लिए केवल ‘‘परिवार मायने रखता है।’’ शाह ने नेहरू...गांधी परिवार के कांग्रेस नेताओं का नाम लेते हुए कहा कि देश की सबसे पुरानी पार्टी में ‘‘आंतरिक’’ लोकतंत्र नहीं है।

शाह ने यहां पार्टी के एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी, संजय गांधी, राजीव गांधी, सोनिया गांधी, राहुल गांधी...मैं भविष्य के नाम का उल्लेख नहीं कर रहा हूं.कार्यकर्ताओं को शामिल करने का कोई सवाल ही नहीं है.ऐसी पार्टियां देश के लोकतंत्र को मजबूती नहीं दे सकतीं और उसके उद्देश्यों की पूर्ति नहीं कर सकतीं.’’ उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जिस पार्टी में ‘‘आंतरिक लोकतंत्र’’ नहीं है, वह देश के लोकतंत्र को मजबूत नहीं कर सकती.शाह ने कहा, ‘‘इसी कारण केवल एक परिवार ने 55 वर्ष तक देश पर शासन किया. कांग्रेस के नेहरू, गांधी परिवार ने इन 55 वर्षों तक शासन किया, लेकिन देश को क्या मिला?’’ उन्होंने नौ मंजिला इमारत की आधारशिला रखी जहां असम में भाजपा का नया प्रदेश मुख्यालय होगा.शाह ने कांग्रेस पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए कहा कि ‘‘मस्तिष्क, कड़ी मेहनत, देशभक्ति कोई मायने नहीं रखती, केवल परिवार मायने रखता है.’’ 

VIDEO: पुलवामा हमले के खिलाफ आक्रोश लंदन तक पहुंचा, सड़कों पर लगे पाकिस्‍तान टेररिस्‍ट के नारे

शाह ने कहा कि पूरे भारत में कई राजनीतिक पार्टियां लोकतांत्रिक प्रणाली में अलग अलग तरीके से कार्य कर रही हैं लेकिन भाजपा सभी से अलग है और उसने आज भी अपना आंतरिक लोकतंत्र संरक्षित रखा है.उन्होंने कहा,‘‘प्रत्येक तीन वर्षों में हम बूथ स्तर से राष्ट्रीय अध्यक्ष तक चुनाव कराते हैं.इसी वजह से भाजपा किसी परिवार की पार्टी नहीं बनी है बल्कि केवल कार्यकर्ताओं की पार्टी है. भाजपा एक क्षेत्रीय पार्टी नहीं बल्कि एक राष्ट्रीय पार्टी बन गई है।