Punjab में BSF ने किया Pakistan के घुसपैठिए का Encounter

बीएसएफ (BSF) जवानों ने पाकिस्तान (Pakistan) से लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा एलओसी पर कुछ हलचल देखी थी, जो घुसपैठ करने के लिए की जा रही थी. जिसके बाद जवानों की तरफ से फायरिंग की गई तो पाकिस्तानी घुसपैठिया मारा गया.

Punjab में BSF ने किया Pakistan के घुसपैठिए का Encounter
बीएसएफ ने मार गिराया पाकिस्तानी घुसपैठिया (फाइल फोटो) | फोटो साभार: PTI

गुरदासपुर: पंजाब (Punjab) में अतंरराष्ट्रीय सीमा पर कोट राजदा के पास बीएसएफ (BSF) ने एक पाकिस्तानी घुसपैठिया मार गिराया. कल (गुरुवार को) शाम करीब 7 बजे बीएसएफ जवानों ने फेंसिंग के पास हलचल देखी थी. जिसके बाद उन्होंने गोली चलाई, लेकिन घुसपैठिया वहां से पाकिस्तान (Pakistan) भाग गया.

फिर कुछ ही देर में दूसरी जगह से दोबारा घुसपैठ करने की कोशिश हुई, इस दौरान बीएसएफ (BSF) के जवानों ने पाकिस्तानी घुसपैठिए को मार गिराया. इस तरह भारत में अशांति फैलाने की पाकिस्तान की एक और नापाक साजिश नाकाम हो गई.

ये भी पढ़ें- कश्मीर पर पाकिस्तान ने रची यह साजिश, भारत के एक्शन के बाद ब्रिटेन को देनी पड़ी सफाई

गौरतलब है कि इस मामले में गुरदासपुर और अमृतसर में बीएसएफ (BSF) से बात की गई तो दोनों की ओर से ही एक दूसरे के जिले की घटना बताई गई. अब जब पाकिस्तानी घुसपैठिए की डेडबॉडी पुलिस के हवाले की जाएगी, तभी पता चल पाएगा कि ये घटना गुरदासपुर की है या अमृतसर की.

एनकाउंटर कैसे हुआ?

पाकिस्तानी घुसपैठिए के एनकाउंटर पर बीएसएफ की तरफ से बताया गया कि जवानों ने पाकिस्तान (Pakistan) से लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा एलओसी पर गुरुवार को कुछ हलचल देखी थी, जो घुसपैठ करने के लिए की जा रही थी. जिसके बाद जवानों की तरफ से फायरिंग की गई तो पाकिस्तानी घुसपैठिया मारा गया.

ये भी पढ़ें- IMF ने की कृषि कानूनों की जमकर तारीफ, सुधारों के लिए बताया अहम कदम

पाकिस्तान की साजिश नाकाम

बता दें कि पाकिस्तान की आर्मी और उसकी खुफिया एजेंसी आईएसआई हमेशा भारत में आतंकवादियों की घुसपैठ करवाकर हमला या ब्लास्ट करवाने की फिराक में रहती है. लेकिन भारतीय सुरक्षाबल उनकी ये कोशिश हमेशा नाकाम करते रहते हैं. पिछले कुछ सालों में एलओसी के जरिए पाकिस्तान से होने वाली घुसपैठ में काफी कमी आई है.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.