Shraddha Murder Case: तीसरी बार होगा आफताब का पॉलीग्राफी टेस्ट, नार्को करने वाले डॉक्टर बोले- डोज ओवर हुई तो...
topStories1hindi1460668

Shraddha Murder Case: तीसरी बार होगा आफताब का पॉलीग्राफी टेस्ट, नार्को करने वाले डॉक्टर बोले- डोज ओवर हुई तो...

Aaftab Amin Poonawala: आफताब का नार्को टेस्ट करने वाले डॉक्टर ने बताया कि इसके साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं. अगर दवा ओवरडोज हो जाए तो मरीज कोमा में जा सकता है. वहीं डोज कम हो जाए तो वो जवाब नहीं देगा.

Shraddha Murder Case: तीसरी बार होगा आफताब का पॉलीग्राफी टेस्ट, नार्को करने वाले डॉक्टर बोले- डोज ओवर हुई तो...

Shraddha Walkar Murder Case: दिल्ली के महरौली इलाके में अपनी प्रेमिका श्रद्धा वालकर की हत्या कर शव के 35 टुकड़े करने के मामले में आरोपी आफताब का सोमवार को तीसरी बार पॉलीग्राफी टेस्ट होगा. फिलहाल कोर्ट ने आफताब को 13 दिन की न्यायिक हिरासत में रखा है और वो दिल्ली की तिहाड़ जेल में रखा गया है. वहां वो सीसीटीवी और अन्य अधिकारियों की निगरानी में है. रोहिणी में स्थित फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (SFL) टीम के मेंबर ने बताया कि श्रद्धा हत्याकांड में आरोपी आफताब अमीन पूनावाला का बचा हुआ पॉलीग्राफी टेस्ट सोमवार को किया जाएगा. 

वहीं एक दूसरे अधिकारी ने जानकारी दी कि अभी पॉलीग्राफी टेस्ट पूरा नहीं हुआ है, ऐसे में नार्को टेस्ट के लिए समय लग सकता है. न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक आफताब का नार्को टेस्ट 5 दिसंबर को हो सकता है.

नार्को टेस्ट करने वाले डॉक्टर ने बताई पूरी कहानी
आफताब का नार्को टेस्ट अंबेडकर अस्पताल के डॉक्टर नवीन करेंगे. यही उसे बेहोशी का इंजेक्शन देंगे और होश में आने तक वो इन्हीं की निगरानी में रहेगा. डॉक्टर नवीन ने बताया कि नार्को टेस्ट करने वाली टीम में एफएसएल की टीम रहेगी, जिसमें एनेसथेटिस्ट, साइकेट्रिस्ट, साइकॉलोजिस्ट और फॉरेंसिक डिविजन के लोग होते हैं. उन्होंने बताया कि नार्को टेस्ट में कम से कम 30 मिनट और ज्यादा से ज्यादा 3 घंटे लग सकते हैं. सवाल न भी तो भी 30 मिनट का समय लगता है. हालांकि, आफताब के नार्को में कितना समय लगेगा ये सवालों पर निर्भर करता है.

उन्होंने कहा कि उनका काम मेडिकल कंडिशन की निगरानी करना है. टेस्ट होने के एक से दो घंटे बाद अस्पताल से डिसचार्ज कर दिया जाता है. उन्होंने बताया कि इसके साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं. अगर दवा ओवरडोज हो जाए तो मरीज कोमा में जा सकता है. वहीं डोज कम हो जाए तो वो जवाब नहीं देगा. नार्को टेस्ट की रिपोर्ट फॉरेंसिक डिपार्टमेंट देता है. हालांकि ये कब तक आ सकती है इसे कहा नहीं जा सकता.

दो बार हुआ पॉलीग्राफी टेस्ट
आफताब अमीन पूनावाला का अभी तक दो बार पॉलीग्राफी टेस्ट हो चुका है. एसएफएल टीम ने गुरुवार को टेस्ट के दौरान 8 घंटे की पूछताछ की. वहीं शुक्रवार को आफताब के साथ 3 घंटे की पूछताछ हुई. अधिकारियों ने बताया कि आफताब की तबीयत खराब होने की वजह से दूसरे दिन की पूछताछ में दिक्कत का सामना करना पड़ा था. यही कारण है कि सोमवार को भी आफताब का पॉलीग्राफी टेस्ट किया जाएगा.

आफताब ने प्रेमिका की कथित तौर गला घोंटकर मौत के घाट उतार दिया था. इसके बाद आरोपी ने शव को आरी से 35 टुकड़े किए और 18 दिनों तक उन्हें महरौली के जंगल में एक-एक करके फेंकता रहा. शव के टुकड़ों को घर में रखने के लिए 300 लीटर का फ्रिज खरीद लाया और उसी में रखा.

तीन बार बढ़ी न्यायिक हिरासत
दिल्ली पुलिस ने आफताब को 12 नवंबर को गिरफ्तार कर हिरासत में भेज दिया था. इसके बाद कोर्ट ने 17 नवंबर को उसकी हिरासत 5 दिन के बढ़ा दी थी. वहीं, मंगलवार को एक बार फिर 4 दिनों के लिए उसकी हिरासत बढ़ा दी गई. शनिवार को एक बार फिर आफताब की हिरासत को 13 दिन के लिए बढ़ाकर उसे न्यायिक हिरासत में भेजा गया. फिलहाल उसे तिहाड़ के जेल नंबर 4 में रखा गया है. ये वही जेल है जहां खूंखार अपराधियों को रखा जाता है.

जांच में जुटी दिल्ली पुलिस
पुलिस अभी भी हत्या के ठोस कारण और आफताब की उस समय स्थिति के बारे में जानकारी जुटाने में लगी है. दिल्ली पुलिस ने आफताब की उस दोस्त का भी पता लगा लिया है जिसे उसने श्रद्धा की हत्या के बाद कमरे पर बुलाया था. पुलिस दोनों के कनेक्शन तलाश रही है. इसके अलावा पुलिस को आफताब के फ्लैट से 5 चाकू अभी तक मिले हैं जिसे एसएफएल की टीम को भेजा गया है ताकि ये पता चल सके कि इनका इस्तेमाल हत्या में हुआ था या नहीं.

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं

Trending news