close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सिगरेट पीने वालों के लिए शामत बनी 8 साल की ये लड़की, देखें Video

छोटी सी इस लड़की के दिन की शुरुआत सुबह जागने के बाद आस-पास के इलाके के किसी चौक पर पहुंच कर सिगरेट पी रहे लोगों की खोज से शुरू होती है. 

सिगरेट पीने वालों के लिए शामत बनी 8 साल की ये लड़की, देखें Video
रिध्या तीसरी क्लास में पढ़ाई कर रही है. (फाइल फोटो)

नासिक: महाराष्ट्र के नासिक शहर की रहने वाली रिध्या वस्पते एक अलग धुन में लगी हुई है. 8 साल की रिध्या ने अब तक 50 लोगों की सिगरेट पीने की लत छुड़ा दी है. इसकी वीडियो देख कर आप भी हैरान हो जाएंगे.

छोटी सी रिध्या वस्पते हर दिन सुबह आस-पास के इलाके के किसी चौक पर जाती है. इस दौरान वो सिगरेट पी रहे लोगों की खोज करती है. रिध्या सिगरेट पीने वाले लोगों के पास पहुंच कर उनसे सिगरेट मांगती है. इस दौरान वो उनसे सिगरेट की बड़ी जोर की तलब लगने की बात कहती है. 

सिगरेट पीने वालों के लिए बनी है शामत
सिगरेट मांगने के दौरान रिध्या ऐसा दिखाने की कोशिश करती है कि बिना सिगरेट पिए उससे रहा नहीं जा रहा है. रिध्या को ऐसा करते देख पहले तो सिगरेट पीने वाले लोग काफी परेशान हो जाते है. जिसके बाद उसे सिगरेट नहीं पीने की सलाह मिलने लगती है. 

28 दिनों से जारी है कैंपेन
लेकिन अब आती है रिध्या की बारी. रिध्या सिगरेट पी रहे अंकल से कहती है कि अगर वो आगे से सिगरेट ना पीने की कसम खाते हैं, तो रिध्या भी सिगरेट को हाथ नहीं लगाएगी. जिसके बाद वो वहां से निकलती है. खबर के अनुसार, रिध्या और उसके पिता पिछले 28 दिनों से शहर के कई हिस्सों में घूम कर ये कैंपेन कर रहे हैं.

मीडिया से बातचीत में रिध्या के पिता चित्रेष वस्पते ने बताया कि उनके एक बचपन के मित्र को सिगरेट पीने के कारण कैंसर की बीमारी हो गई. वो चाह कर भी अपने दोस्त की सिगरेट पीने की लग को रोक नहीं पाए. जिसका उन्हे लंबे समय तक अफसोस रहा. एक दिन जब वो अपनी बेटी के साथ एक चौक पर अपने दोस्त से मिलने के लिए पहुंचे तो वो सिगरेट पी रहा था. लेकिन रिध्या के देखने के बाद उसने सिगरेट छुपा ली. यही से उन्हें यह आईडिया आया कि क्यों ना छोटे बच्चों से सिगरेट ना पीने के लिए लोगों को राजी करवाया जाए.

सिगरेट ना पीने देने की मुहिम में जूटी रिध्या ने कहा कि सुबह में जागने के बाद उसके पापा उसे उस दिन का टॉपिक बताते हैं और फिर वो दोनों आस-पास के उस इलाके में निकल जाते है. जहां उन लोगों की तादात ज्यादा रहती है, जो चाय के साथ सिरगेट पीते हैं. इस दौरान उन्हें सिगरेट की लत नहीं छुड़ाती. बल्कि उससे हेल्थ और आर्थिक तौर पर होने वाले नुकसान के बारे में बताती है.

तो लिजिए रिध्या से सलाह
रिध्या का कहना है कि पहले तो कोशिश करे की पैंट या शर्ट की जेब मे सिगरेट और तंबाककू के पैकेट ना हो, दूसरा उस रास्ते से पर जाने बचे जहां पर ये सबकुछ मिलता है धीरे-धीरे करके ये छूट जाएगी.

तीसरी क्लास में पढ़ रही रिध्या
रिध्या फिलहाल तीसरी क्लास में पढ़ाई कर रही है. वहीं, पिता चाटर्ड एकाउंटेंट है. वहीं, उसकी मां हाउस वाईफ है. जल्द ही रिध्या के इस कैंपन में नके पिता के साथ ही उनकी मां केतकी वस्पते भी शामिल होने वाली है. जिसके बाद वो स्कूल-कालेजों के आस-पास कैम्पेन चलाकर वहां पढ़ाई कर रहे छात्रों से सिगरेट और तंबाकू छुड़ाने को कोशिश करेंगे. 

(साथ में योगेश खरे, जी न्यूज संवाददाता, नासिक)