close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जांच आयोग ने जारी की जयललिता की आखिरी आवाज की रिकॉर्डिंग, जानिए क्या कहा था 'अम्मा' ने

पांच दिसंबर 2016 को एक अस्पताल में जयललिता की मृत्यु हो गई थी.

जांच आयोग ने जारी की जयललिता की आखिरी आवाज की रिकॉर्डिंग, जानिए क्या कहा था 'अम्मा' ने
तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जयललिता. (फाइल फोटो)

चेन्नई: तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जयललिता की मृत्यु की जांच कर रहे आयोग ने उनकी आवाज की एक रिकॉर्डिंग मीडिया को उपलब्ध कराई है. इसमें उन्हें एक चिकित्सक से यह कहते सुना जा सकता है कि उनका रक्तचाप (ब्लड प्रेशर) 140/80 उनके लिए सामान्य है. ड्यूटी पर मौजूद एक डॉक्टर ने जब जयललिता से कहा कि उनका रक्तचाप अधिक है और यह 140 दिख रहा है तब उन्होंने पूछा कि 140 बाय कितना है ? इस पर डॉक्टर ने जवाब दिया, ‘‘140/80’’. तब जयललिता ने कहा, ‘‘यह उनके लिए ठीक है ... सामान्य है. ’’

उनकी आवाज की ये रिकॉर्डिंग न्यायमूर्ति ए अरुमुगस्वामी जांच आयोग को 26 मई को उपलब्ध कराई गई. आवाज की रिकार्डिंग डॉ केएस शिवकुमार ने की, जो उनके डॉक्टर थे. जयललिता द्वारा हरे रंग की स्याही से लिखा गया एक चार्ट भी उपलब्ध कराया गया जिसमें वह अपने स्वास्थ्य और भोजन के बारे में सतर्क नजर आ रही हैं. गौरतलब है कि पांच दिसंबर 2016 को एक अस्पताल में उनकी मृत्यु हो गई थी.

अपोलो अस्पताल के पास जलललिता के खून का नमूना नहीं
इससे पहले अपोलो अस्पताल ने गुरुवार (26 अप्रैल) को मद्रास उच्च न्यायालय से कहा कि उसके पास तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री के खून के नमूने नहीं हैं. अदालत ने बुधवार (25 अप्रैल) को अपोलो अस्पताल को जयललिता के रक्त के नमूने के संबंध में एक रिपोर्ट दाखिल करने के आदेश दिए थे. जयललिता को इस अस्पताल में 22 सितंबर 2016 को भर्ती कराया गया था और 5 दिसंबर को उनका इसी अस्पताल में निधन हुआ था.

अदालत ने यह आदेश एस. अमृता की एक याचिका की सुनवाई के दौरान दिया था, जोकि जयललिता की पुत्री होने का दावा कर रही है. अदालत ने मामले की अगली सुनवाई 4 जून को मुकर्रर की है. अमृता ने खुद को जयललिता की पुत्री साबित करने के लिए उच्च न्यायालय का रुख किया था. उसने डीएनए टेस्ट की जांच की अनुमति देने के लिए न्यायालय में याचिका दाखिल की है.