close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बारिश का कहर, मुंबई में सोमवार को बंद रहेंगे स्‍कूल, सरकार ने कहा-जरूरी हो तभी घर से निकलें

मूसलाधार बारिश को ध्यान में रखते हुए मुंबई और महाराष्ट्र के कई इलाकों में सोमवार को भी स्कूल बंद रहेंगे. 

बारिश का कहर, मुंबई में सोमवार को बंद रहेंगे स्‍कूल, सरकार ने कहा-जरूरी हो तभी घर से निकलें
ठाणे पुलिस ने बताया कि कल्यान, डोंबीवली, भिवंडी, उल्हास, ठाणे आदि जगहो से बारिश के पानी में फंसे लोगों को लगातार बाहर निकाला जा रहा है.

मुंबई: मुंबई: महाराष्ट्र सरकार ने मौसम विभाग के रेड अर्ल्ट के मद्देनजर मुंबई, पालघर, ठाणे, रायगढ़ के स्कूल-कॉलेजों को सोमवार को भी बंद रखने के आदेश दिए हैं. मौसम विभाग का कहना है कि महाराष्ट्र के इन हिस्सों में अगले 48 घंटे के दौरान भारी बारिश की आशंका है. महाराष्ट्र सरकार ने सभी सरकारी कर्मचारियों को दफ्तर में देरी से आने की भी इजाजत दे दी है. राज्य सरकार ने भारी बारिश की संभावना के चलते मुंबई के लोगों से अपील की है कि वे जब तक जरूरी न हो, घरों से न निकलें. साथ ही कहा गया कि सभी आपातकालीन सेवाएं शुरू रहेंगी.

मुंबई समेत महाराष्ट्र के कई हिस्सों में बारिश का कहर रविवार को भी जारी है. भारतीय मौसम विभाग ने महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा में रेड अलर्ट जारी किया है. विभाग का कहना है कि तेज हवाओं के कारण यहां पर बारिश हो सकती है. तेज बारिश और हवाओं के कारण तटीय इलाकों में लोगों को सावधान रहने के लिए कहा गया है. वहीं, मुंबई और तटीय कोंकण क्षेत्र में रविवार को मूसलाधार बारिश के जारी रहने से कई जगहों पर रेल सेवाएं प्रभावित हुईं. बताया जा रहा है कि कुर्ला उपनगर में फंसे करीब 400 लोगों को बचाने के लिए नावें भेजी गई हैं. कुर्ला के क्रांति नगर इलाके के कई घरों में पानी घुस गया है जिसके बाद लगभग 400 फंसे निवासियों को बचाने के लिए बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने रबड़ की नावें भेजी हैं.

मूसलाधार बारिश को ध्यान में रखते हुए ठाणे के जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर ने सोमवार को भी स्कूल बंद रहने की जानकारी दी. इसी के साथ नासिक, पुणे समेत कई जगहों पर सोमवार को स्कूल बंद रहेंगे. वहीं, पुणे प्रशासन के अधिकारियों ने बताया है कि खड़गवासला बांध से मुथा नदी में 45 हजार से ज्यादा क्यूसेक पानी छोड़ा गया है. वहीं, ठाणे पुलिस ने बताया कि कल्यान, डोंबीवली, भिवंडी, उल्हास, ठाणे आदि जगहो से बारिश के पानी में फंसे लोगों को लगातार बाहर निकाला जा रहा है. बाढ़ के पानी में बढ़ाव के चलते थाने के छोटे से जू गांव में करीबन 35 लोग फंसे हुए हैं, इनके लिए राज्य सरकार ने एयरलिफ्ट का अनुरोध किया है.

 

बीएमसी आपदा नियंत्रण ने कहा कि उन्हें फिलहाल बाजारबाड म्युनिसिपल स्कूल में भेज दिया गया है और इस दौरान उनके रहने, खाने के लिए व्यवस्था की गई है और जरूरत की मेडिकल सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है. रायगढ़ जिले के पेण में मौजूद कुछ गांवों में रविवार तड़के चार बजे से करीब 60 लोग पांच से छह फीट गहरे पानी में फंसे हुए हैं और उनके बचाव के लिए प्रशासन ने राष्ट्रीय आपदा बल (एनडीआरएफ) की टीम को तैनात किया है.

शुक्रवार की रात से रविवार तक मुंबई, ठाणे, पालघर, रायगढ़ और रत्नागिरी के कई इलाकों में भारी वर्षा लगातार जारी है जिससे चारों ओर पानी भर गया है, सामान्य जिंदगी प्रभावित हो रही है और यातायात की सेवाएं भी बाधित है. पश्चिमी रेलवे सेवाएं देर से जारी रही, लेकिन पटरियों में जलभराव के चलते कुर्ला से सायन के बीच मध्य रेलवे की सेवाएं ठप रही. इसके उपनगरीय हार्बर लाइन की सेवा भी बाधित रही. मौसम विभाग और बीएमसी आपदा नियंत्रण ने लोगों को तटीय क्षेत्रों और समुद्र के किनारे से दूर रहने की चेतावनी दी है. अन्य सभी एजेंसियों के अलावा बीएमसी, भारतीय सेना, नौसेना और वायु सेना इस दौरान हाई अलर्ट पर हैं.