सस्‍ता मोबाइल खरीदना पड़ा भारी, बच्‍चा खेल रहा था गेम तभी हुआ विस्‍फोट और फ‍िर...

श्रीपत जाधव नें टीवी पर विज्ञापन देखकर मोबाईल खरीदा था. 1500 रुपए के तीन आयकॉल के 72 मॉडल के इन मोबाईल के साथ घडी भी मुफ्त मिली थी.

सस्‍ता मोबाइल खरीदना पड़ा भारी, बच्‍चा खेल रहा था गेम तभी हुआ विस्‍फोट और फ‍िर...

सतीश मोहिते, नांदेड़: महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले में मुखेड तहसील के जिरगा गांव में मोबाइल का विस्फोट हुआ. गेम खेल रहे आठ वर्षीय प्रशांत जाधव का बायां हाथ पूरी तरह क्षति‍ग्रस्त हुआ है. इससे फर्जी मोबाइल बनाने वाले कंपनियों का भंडफोड़ तो हो गया. लेकिन प्रशांत का हाथ अब कभी भी ठीक नहीं हो पाएगा.

जिरगा गांव में रहने वाले श्रीपत जाधव नें टीवी पर विज्ञापन देखकर मोबाईल खरीदा था. 1500 रुपए के तीन आयकॉल के 72 मॉडल के इन मोबाईल के साथ घडी भी मुफ्त मिली थी. श्रीपत उसकी पत्नी शकुंतला और बेटा प्रशांत तीनों यह मोबाइल इस्तेमाल करते थे. रविवार को 8 साल का प्रशांत हमेशा की मोबाईल पर खेल रहा था तभी मोबाइल में विस्फोट हो गया.

श्रीपत ने बताया कि विस्फोट में प्रशांत का हाथ पूरी तरह क्षति‍ग्रस्त हो गया. उसका पंजा घायल हो गया. उंगलि‍यां उड गईं. हमने उसे अस्पताल में भर्ती कराया. डॉक्‍टरों ने उसका ऑपरेशन किया. अब वह ठीक है, लेकिन वह हमेशा के लिए दिव्‍यांग हो गया.

प्रशांत का इलाज करने वाले डॉक्टर प्रवीण ने बताया की जब प्रशांत को अस्पताल लाया गया तब उसके हाथों की नसें फटी हुई थीं. हमने तुरंत इलाज करवाया, जिसके चलते प्रशांत को बचाया जा सका. अफसोस की उसका हाथ कभी भी ठीक नहीं हो सकता.

मोबाईल एक्सपर्ट का कहना है कि मोबाईल लेते वक्त वह ब्रांडेड कंपनी का है या नहीं इसकी जांच पड़ताल कर लें. ऐसे में संबंधित कंपनी को जवाबदेह बनाने के लिए आसान हो सकता है और नुकसान भरपाई की के लिए कानूनी लडाई लड़ी जा सकती है.