close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

2022 तक PoK भारत का हिस्सा होगा, अखंड भारत का टारगेट पूरा करके रहेंगेः शिवसेना

'मोदी जी ने ट्रंप को साफ कहा है कि जम्मू कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है. 370 के हटने के बाद अब पाकिस्तान भी मानने लगा है. हिंदुस्तान ने कश्मीर पर पूरा कब्जा कर लिया है.'

2022 तक PoK भारत का हिस्सा होगा, अखंड भारत का टारगेट पूरा करके रहेंगेः शिवसेना

नई दिल्लीः जम्मू कश्मीर से अनुच्छे 370 हटाए जाने के बाद अब भारत पीओके को जम्मू कश्मीर में शामिल करने पर है. केंद्र सरकार में सहयोगी शिवसेना के नेता व राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा है कि पूरा कश्मीर हिंदुस्तान का का है और 2022 तक पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) भी आ जाएगा. शिवसेना नेता संजय राउत का यह बयान केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह के उस बयान पर प्रतिक्रिया के रूप में आया है जिसमें उन्होंने कहा था कि हमारा अगला एजेंडा पीओके को पुनः प्राप्त कर जम्मू कश्मीर के अंतर्गत लाना है.

संजय राउत ने कहा, 'मोदी जी ने ट्रंप को साफ कहा है कि जम्मू कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है. 370 के हटने के बाद अब पाकिस्तान भी मानने लगा है. हिंदुस्तान ने कश्मीर पर पूरा कब्जा कर लिया है. इमरान खान की बॉडी लैंग्वेज देख लिया ना, रंग उड़ गया है.अब कुछ दिनों में पीओके भी हमारा होगा. 

शिवसेना नेता ने आगे कहा, 'अब ये बात सब करने लगे है कि पूरा कश्मीर हिंदुस्तान का है. मुझे भरोसा है कि 2022 के पहले पीओके भी आ जाएगा. सब हमारे साथ हैं, अखंड हिंदुस्तान का टारगेट पूरा करके रहेंगे.'

यह भी पढ़ेंः समान नागरिक संहिता के पक्ष में बोले शिवसेना सांसद संजय राउत, "यह देश हित का निर्णय है"

बता दें कि अब मोदी सरकार का अगला कदम पाक अधिकृत कश्मीर को जम्मू कश्मीर के अंतर्गत लाना है. मोदी सरकार 2.0 के 100 दिन पूरे होने के मौके पर जम्मू में प्रेस को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने कहा, 'कश्मीर से 370 हटने के बाद सिर्फ कश्मीरी पंडित ही नहीं बल्कि अन्य लोग भी कश्मीर में आना चाहते है. देश भर से यंग स्टार्ट्प्स कश्मीर आना चाहते हैं, क्योंकि यहां संभावनाएं हैं. हमारा अगला एजेंडा पीओके को पुनः प्राप्त कर जम्मू कश्मीर के अंतर्गत लाना है'

यह भी पढ़ेंः PoK को बनाना है अभिन्न अंग, ये हमारा नहीं बल्कि 1994 में संसद द्वारा पारित संकल्प है: जितेंद्र सिंह

उन्होंने कहा, ' ये सिर्फ मैं या मेरा संगठन नहीं कह रहा बल्कि 1994 में नरसिंहाराव की सरकार में पार्लियामेंट में यह बिल पास किया गया था.' डॉ जितेंद्र सिंह ने कहा कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना सरकार का सबसे बड़ा काम है.