राजस्थान: आधी रात को उद्घाटन कर खोले गए थाने पर अचानक लटका ताला, आमजन परेशान

अचानक इस पुलिस चौकी से स्टाफ को हटा दिया गया. और आलम ये है कि पिछले पांच महीनों से इस पुलिस चौकी पर ताला लटका हुआ है.

राजस्थान: आधी रात को उद्घाटन कर खोले गए थाने पर अचानक लटका ताला, आमजन परेशान
अचानक इस पुलिस चौकी से स्टाफ को हटा दिया गया.

बबलू मीणा, जालोर: चितलवाना थाना इलाके में नशेड़ियों ने लोगों की नाक में दम कर रखा है. जैसे ही सूरज ढलता है वैसे ही नशेड़ियों की शाम रंगीन होने लगती है. कुछ नशेड़ी तो आवारागर्दी पर उतर आते है. जिससे परेशान होकर ग्रामीणों ने मंत्रीजी से गुहार लगाई थी. तब कहीं जाकर वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम विश्नोई ने लोगों की शिकायत पर इलाके में आधी रात थाने का उद्घाटन करवाया. साथ ही 2 कांस्टेबल की नियुक्ति भी की गई. ताकि इलाके में बढ़ रही नशेड़ियों की संख्या में कमी आए.

अचानक इस पुलिस चौकी से स्टाफ को हटा दिया गया. और आलम ये है कि पिछले पांच महीनों से इस पुलिस चौकी पर ताला लटका हुआ है. जिसका खुद मंत्रीजी ने उद्घाटन करवाया था. आए दिन इस इलाके में राह चलते राहगीरों से बदसलूकी की वारदाते सामने आ रही है. बावजूद इसके दोबारा चौकी को शुरू नहीं किया जा रहा है.

लोगों का कहना है कि नशेड़ी अंधेरा होते ही पूरे इलाके में जमकर उत्पात मचाते हैं और लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. कभी कभी हालात बेकाबू होने पर 50 किलोमीटर दूर से चितलवाना पुलिस को बुलाया जाता है. जिसमें काफी वक्त लगता है.

सूत्रों की माने तो नर्मदा के किनारे बनी सड़क पर तस्करों की दर्जनों गाड़ियां रात में निकलती है. लेकिन थाने से दूरी और रात्रिकालीन गश्त नहीं होने के चलते तस्कर बेखौफ आसानी से अपने मकसद में कामयाब हो जाते हैं.