शोधकर्ताओं ने बनाई बाल उगाने की मशीन, लोगों को ऐसे मिलेगी गंजेपन से निजात...

शोधकर्ताओं ने एक पहने जाने वाला उपकरण विकसित किया है, जो पहनने वाले से ऊर्जा प्राप्त करता है. 

शोधकर्ताओं ने बनाई बाल उगाने की मशीन, लोगों को ऐसे मिलेगी गंजेपन से निजात...
इस शोध का प्रकाशन जर्नल 'एसीएस नैनो' में किया गया है.

नई दिल्ली: बाल झड़ने से परेशान लोगों के लिए अच्छी खबर है, शोधकर्ताओं ने एक पहने जाने वाला उपकरण विकसित किया है, जो पहनने वाले से ऊर्जा प्राप्त करता है और बाल रोमों को उत्तेजित करने के लिए इलेक्ट्रिक पल्सेज भेजता है और बाल को फिर से उगाता है. 

शोध के मुताबिक, उपकरण पहनने वाले व्यक्ति की गतिविधि से ऊर्जा प्राप्त करता है, इसलिए इसे भारी बैटरी पैक या जटिल इलेक्ट्रॉनिक्स की जरूरत नहीं होती. वास्तव में इसे बेसबॉल टोपी के नीचे सावधानी से पहना जा सकता है.

अमेरिका के विस्कॉन्सिन-मैडिसन विश्वविद्यालय के प्रोफेसर जूडोंग वांग ने कहा, 'मेरा मानना है कि यह बाल को फिर से उगाने के लिए बहुत ही व्यावहारिक समाधान है'.

इस शोध का प्रकाशन जर्नल 'एसीएस नैनो' में किया गया है. बिना बाल वाले चूहों पर साथ-साथ चल रहे परीक्षण में उपकरण ने प्रभावी तौर पर बाल की वृद्धि को प्रेरित किया, क्योंकि दो अलग-अलग यौगिक गंजेपन की दवाओं में पाए जाते है.

शरीर की दिन-प्रतिदिन की गति से ऊर्जा संग्रह करने वाले उपकरणों के आधार पर बाल का विकास करने वाले तकनीकी त्वचा को कोमलता से, कम आवृत्ति वाली इलेक्ट्रिक पल्सेज से प्रेरित करती है, जो सुप्त फाल्किल्स को फिर से सक्रिय कर बाल बढ़ाने में मदद करती है.