close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र: विधानसभा चुनाव से पहले शिवसेना और बीजेपी के बीच बढ़ता जा रहा है तनाव

बीजेपी विधायक नरेंद्र मेहता ने घोषणा की है कि शिवसेना के साथ भाजपा गठबंधन नहीं करेगी.

महाराष्ट्र: विधानसभा चुनाव से पहले शिवसेना और बीजेपी के बीच बढ़ता जा रहा है तनाव
बीजेपी विधायक ने आरोपी शिवसैनिकों की गिरफ्तारी और नुकसाई की भरपाई की मांग की है.

मुंबई: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra assembly election 2019) से पहले शिवसेना और भाजपा के बीच तनाव लगातार बढ़ता ही जा रहा है. बीजेपी विधायक नरेंद्र मेहता ने घोषणा की है कि शिवसेना के साथ भाजपा गठबंधन नहीं करेगी.

विधायक ने कहा कि भायंदर नगर पालिका के शिवसेना पार्षदों के गलत व्यवहार को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है. ये पार्षद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि के कारण जीते थे और अब वे गलत व्यवहार में लगे हुए हैं.

दरअसल, महानगरपालिका में दिवंगत बाला साहेब ठाकरे की आर्टगैलरी के निर्माण का प्रस्ताव अटका हुआ है. इसको लेकर शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को मीरा-भायंदर नगर पालिका के सरकारी कार्यालय में तोड़फोड़ कर दी और बीजेपी विधायक नरेंद्र मेहता और महापौर डिंपल मेहता के खिलाफ अशोभनीय शब्दों का इस्तेमाल किया.

महापौर और बीजेपी विधायक ने आरोपी शिवसैनिकों की गिरफ्तारी और नुकसाई की भरपाई की मांग की है. चुनावी सीजन में बीजेपी के इस रुख से दोनों दलों के बीच तनाव और बढ़ सकता है.

गौरतलब है कि शिवसेना मीरा भायंदर महानगर पालिका में बीजेपी की सहयोगी है. वहीं, इस निकाय में बीजेपी का बहुमत है.

महाराष्ट्र चुनाव: सीट बंटवारे को लेकर पेच फंसा, इतनी सीटें मांग रही शिवसेना
महाराष्ट्र में अगले महीने विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly elections 2019) होने हैं और अब तक शिवसेना और बीजेपी (Shiv Sena- BJP)  के बीच गठबंधन और सीटों के बंटवारे का ऐलान लटका हुआ है. सूत्रों के मुताबिक, शिवसेना ने बीजेपी के सामने चुनाव पूर्व गठबंधन को लेकर फिफ्टी- फिफ्टी फॉर्मूला की शर्त दोहरा दी है. शिवसेना 135 सीटों से कम पर मानने को तैयार नहीं है. हालांकि बीजेपी, शिवसेना के लिए 124 सीटों की पेशकश लेकर नए फार्मूले के साथ सामने आई है लेकिन गठबंधन को लेकर अभी तक बात नहीं बन पाई है.