सरकारी स्कूल के मिड डे मील में मिला सांप, बावर्ची की सावधानी से बची बच्चों की जान

स्थानीय लोगों और स्कूल प्रशासन का कहना है कि महिला बावर्ची की सतर्कता के चलते ही आज कई बच्चों की जान बच गई

सरकारी स्कूल के मिड डे मील में मिला सांप, बावर्ची की सावधानी से बची बच्चों की जान
स्कूल में मिड डे मील में बच्चों को खाना परोसने की तैयारी की जा रही थी कि तभी बावर्ची की नजर खाने में पड़े सांप के बच्चे पर पड़ गई.(फाइल फोटो)

सतीश मोहिते, नांदेड़ः महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले के एक सरकारी स्कूल के मिड डे मील में सांप का बच्चा मिलने से पूरे स्कूल में हड़कंप मच गया, लेकिन बावर्ची की सावधानी के चलते कोई भी बड़ा हादसा होने से टल गया. स्थानीय लोगों के मुताबिक वक्त रहते यह बात बावर्ची महिला को पता चल गई और उसने बच्चों को खाना नहीं परोसने दिया, जिससे बड़ा हादसा होने से बच गया. घटना नांदेड के हदगाव तालुका के गारगव्हान गांव की है, जहां जिला परीषद की स्कूल में मिड डे मील में बच्चों को खाना परोसने की तैयारी की जा रही थी कि तभी बावर्ची की नजर खाने में पड़े सांप के बच्चे पर पड़ गई, जिसके बाद बच्चों को खाना नहीं परोसा गया और कई बच्चों की जान बच गई.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को लोकायुक्त के दायरे में लाने का कदम एक दिखावा: NCP

मिली जानकारी के मुताबिक सरकारी योजना के तहत महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले के एक सरकारी स्कूल में बच्चों को खाना परोसा जाना था, जिसके लिए स्कूल की महिला बावर्ची ने खिचड़ी बनाई थी. महिला बावर्ची के मुताबिक यह खाना एक टीन शेड के नीचे बनाया जाता है. महिला को शक है कि सांप का बच्चा टीन शेड से ही नीचे खाने के बर्तन में गिर गया होगा. जिसके बाद जब महिला की नजर खिचड़ी में पड़े सांप के बच्चे पर पड़ी तो उसने पूरी खिचड़ी फेंक दी और वापस से बच्चों के लिए खाना बनाया. 

उद्धव ने शिवसेना सांसदों से कहा,'अपने क्षेत्रों पर दें ध्यान, BJP से गठबंधन का मुद्दा मुझ पर छोड़ें'

स्थानीय लोगों और स्कूल प्रशासन का कहना है कि महिला बावर्ची की सतर्कता के चलते ही आज कई बच्चों की जान बच गई. अगर समय रहते उसने खाने में सांप न देखा होता तो शायद अनर्थ हो जाता. वहीं खाने में सांप का बच्चा होने की खबर तब सामने आई जब बच्चों ने घर जाकर अपने-अपने माता-पिता को यह बात बताई. बता दें इस सरकारी प्राथमिक स्कूल में पहली कक्षा से पांचवी कक्षा के 160 बच्चे पढते है. जिनके लिए दोपहर के खाने के लिए खिचड़ी बनाई गई थी. बच्चों के लिए यह खाना स्कूल के टीन शेड के नीचे बनाया जा रहा था, जिससे कहीं से यह सांप आकर खिचड़ी में गिर गया.

मुंबईः बंद दुकान में चोरी कर चोरों ने की पार्टी, ठाठ देख पुलिस ने किया गिरफ्तार

मामला सामने आने के बाद स्कूल कमिटी ने बीडीओ ( ब्लॉक डेवलपमेन्ट ऑफीसर) को शिकायत की है. अब मामले की जांच की जा रही है. शिक्षणाधिकारी ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं. इस घटना से फिर से एक बार मिड डे मील बनाते हुए सावधानी नहीं बरती जाती यह साफ हो गया है. बता दें यह पहली बार नहीं है जब मिड डे मील में इस तरह की गड़बड़ियां सामने आई हों. इससे पहले भी मिड डे मील में मिलने वाले खाने की क्वालिटी हमेशा ही विवादों में रही है.