इन 'लोगों' ने भड़काया था दिल्ली में दंगा, स्पेशल सेल की चार्जशीट में खुलासा

दिल्ली दंगो के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है. यह चार्जशीट करीब 20 हजार पन्नों की है.

इन 'लोगों' ने भड़काया था दिल्ली में दंगा, स्पेशल सेल की चार्जशीट में खुलासा
फाइल फोटो

नई दिल्ली: दिल्ली दंगो के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है. यह चार्जशीट करीब 20 हजार पन्नों की है. फिलहाल उमर खालिद और सर्जिल इमाम के खिलाफ चार्जशीट दाखिल नही हुई है. उनका नाम सप्लीमेंट्री चार्जशीट में शामिल किया जाएगा. 

बता दें कि उमर खालिद  को रविवार देर रात गिरफ्तार किया गया था. वह 24 सिंतबर तक पुलिस रिमांड पर है. जबकि शरजील इमाम पहले से ही न्यायिक हिरासत में हैं. स्पेशल सेल ने कोर्ट में चार्जशीट पेश करते हुए कोर्ट में कहा कि उसके पास 747 गवाह हैं. इसके साथ ही आरोपियों की व्हाट्सअप चैट, टेकनिकल एविडेंस और अन्य डाक्यूमेंट्स भी हैं. जिससे आरोपियों की दंगा भड़काने में भूमिका साबित होती है. 

ये भी पढ़ें- लव जेहाद: 4 बच्‍चों के बाप अब्‍दुल्‍ला ने अमन बनकर की 4 शादियां

स्पेशल सेल की चार्जशीट में आरोपी ताहिर हुसैन, मुहम्मद परवेज अहमद,  मुहम्मद इल्यास, सैफी खालिद,  इशरत जहां,  मिरान हैदर, सफूरा जारगर, आसिफ इकबाल तन्हा,  शादाब अहमद, नताशा नरवाल, देवांगना कलिता, तस्लीम अहमद, सलीम मलिक, मुहम्मद सलीम खान और अतहर खान के नाम शामिल हैं. स्पेशल सेल ने कोर्ट से कहा कि उन्हें चार्जशीट दाखिल करने के लिए केंद्र और दिल्ली सरकार दोनों जगह से अनुमति मिल गई है.

 

दंगों के लिए विदेशों से मिली थी फंडिंग
स्पेशल सेल की जांच के मुताबिक एंटी CAA प्रोटेस्ट के दौरान कई समूहों ने आपस में हाथ मिला लिया था. इसमें पिंजरा तोड़ ग्रुप, PFI, जामिया कोआर्डिनेशन कमेटी, यूनाइटेड अगेंस्ट हेट, जामिया के पूर्व छात्र, जेएनयू और जामिया के छात्र शामिल थे. इन प्रदर्शनों को फंडिंग PFI और विदेशों से हुई थी. इन्हीं पैसों से हथियार भी खरीदे गए थे. उमर खालिद, और शार्जील इमाम ने दिल्ली और देश के दूसरे हिस्सों में भड़काऊ भाषण दिए थे. उमर खालिद ने महाराष्ट्र के औरंगबाद में भाषण देकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे का जिक्र कर कुछ बड़ा करने की बात कही थी. स्पेशल सेल ने अपनी जांच में दिल्ली के दंगो को पूरी तरह सुनियोजित पाया है.  (इनपुट: राजू राज, नीरज गौड़, प्रमोद शर्मा)