close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भूख लगने पर 8 साल के बच्चे ने साथी के बैग से खाए 2 बिस्कुट, शिक्षक ने तार से पीटा

कक्षा 4 में पढ़ने वाला 8 साल के निरंजन को भूख लगी. उसके पास खाने के लिए कुछ नही था.

भूख लगने पर 8 साल के बच्चे ने साथी के बैग से खाए 2 बिस्कुट, शिक्षक ने तार से पीटा

औरंगाबाद: औरंगाबाद के एक बच्चे को दो बिस्कुट चुरा के खाने पर बेरहमी से पिटाई का मामला सामने आया है. औरंगाबाद के निल्लोड गांव  में यह घटना घटी है. निल्लोड माऊली वारकरी संस्था की संत ज्ञानेश्वर विद्यालय में यह घटना घटी है, इस मामले में पुलिस ने रामेश्वर महाराज नाम के शख्स को हिरासत में लिया है. रामेश्वर महाराज इस संस्था के प्रमुख है. यह एक आश्रम स्कूल है. जहां बच्चे की रहने की भी व्यवस्था है. दो बिस्कुट चुराने पर अमानवीय सजा इस बच्चे को दी गई है. कक्षा 4 में पढ़ने वाला 8 साल के निरंजन को भूख लगी. उसके पास खाने के लिए कुछ नही था.

तो उसी स्कूल के एक छात्र के बैग के पास रखा हुआ बिस्कुट का पैकेट लिया. उसमे से दो बिस्कुट खा लिए और बिस्कुट का पैकेट वहीं रख दिया. जब रामेश्वर महाराज को इस बात की सूचना मिली तो उन्हें गुस्सा आया. उन्होंने निरंजन को बुलाया और गुस्से में बेहरमी से पिटाई की. स्पीकर की वायर निकालकर उसे पिटा गया.

निरंजन की पीठ पर इसके निशान अभी तक है, उसके सिर पर भी चोट आयी हैं. इसके बाद भी उसे ईलाज के लिए नहीं ले गए. जब निरंजन की माँ उस मिलने आश्रम स्कूल में आयी. तो सच्चाई सामने आयी है. , रोते हुए बच्चे ने आप बीती बताई. इस सदमे से अभी तक बच्चा बाहर नही आया है. अभी भी वह रामेश्वर महाराज से डरता है.

घर का आर्थिक हालत अच्छे नहीं होने की वजह से ही बच्चे को पढ़ाई के लिए आश्रम स्कूल में रखा गया है. निंरजन की माँ वैशाली जाधव का कहना है की, मैंने इस मामले में पुलीस थाने मे शिकायत दर्ज कराई है. अमानवीय तरीके से पिटाई करना यह कोई शिक्षा नही है.

अन्य छात्र के साथ भी ऐसी ही पिटाई कियी जा सकती है, भविष्य में यह ना हो इसलिए मैंने सहायक पुलिस निरीक्षक सत्यजीत ताईतवाले का कहना है की, पिटाई से पीड़ित बच्चे की मां ने पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है. आरोपी पर केस दर्ज हिरासत में ले लिया गया है. आगे कि जांच शुरु है.