सेना को बड़ी सफलता, कश्मीर से आतंकी संगठन अंसार गजवत-उल-हिंद का सफाया

सिंह ने कहा, 'ललहारी 2016 से सक्रिय था. वह काकापोरा में हमले में शामिल था. वह पुलिसकर्मी फयाज अहमद व नागरिकों की हत्या में शामिल था. वह अवंतीपोरा व पुलवामा के लोगों को परेशान करने में भी शामिल था.'

सेना को बड़ी सफलता, कश्मीर से आतंकी संगठन अंसार गजवत-उल-हिंद का सफाया
पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस की.

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर (Jammu kashmir) के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बुधवार को कहा कि अंसार गजवत-उल-हिंद संगठन का तीन आतंकवादियों के खात्मे के साथ पूरी तरह से दक्षिणी कश्मीर से सफाया हो गया है, इन आतंकवादियों में आतंकी समूह के शीर्ष कमांडर हामिद ललहारी भी शामिल है, जिसे मंगलवार को अवंतीपोरा में एक मुठभेड़ में मार गिराया गया. दिलबाग सिंह ने श्रीनगर में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, 'अंसार गजवत-उल-हिंद का सफाया हो चुका है.'

उन्होंने कहा कि अंसार गजवत-उल-हिंद के प्रमुख जाकिर मूसा के मारे जाने के बाद कमांड हामिद ललहादी को सौंपी गई. उसने पुलवामा के नवीद और जुनैद को अपने साथ शामिल करने के लिए प्रेरित किया. यह संगठन जैश-ए-मोहम्मद व हिजबुल मुजाहिदीन के साथ समन्वय कर रहा था.

सिंह ने कहा, 'ललहारी 2016 से सक्रिय था. वह काकापोरा में हमले में शामिल था. वह पुलिसकर्मी फयाज अहमद व नागरिकों की हत्या में शामिल था. वह अवंतीपोरा व पुलवामा के लोगों को परेशान करने में भी शामिल था.'

डीजी ने कहा कि ये लोग पाकिस्तान के इशारों पर आतंक का रास्ता चुनते हैं. ये लोग नौजवानों को बरगला कर आतंक के रास्ते पर ला रहे हैं. सिंह ने भटके हुए युवाओं से अपील की, 'आप लोग हथियार छोड़कर आएं हम आपको सही रास्ते पर चलने में हर संभव मदद करेंगे.'

डीजीपी ने कहा कि मारे गए अंसार के यह आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के साथ मिलकर अपनी गतिविधियों को अंजाम दे रहे थे. पिछले कुछ समय से आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद घाटी में सक्रिय लश्कर-ए-तैयबा, हिजबुल मुजाहिदीन जैसे अन्य आतंकी संगठनों से राबता जोड़ रहे हैं. उनकी कोशिश है कि जितनी ज़्यादा हो सके उतनी अफरा-तफरी और कतेलआम मचाई जाए. वह चाहते हैं कि पाकिस्तान में बैठे आकाओं के फरमान में कश्मीर में लागू किया जा सके. डीजीपी ने कहा कि ललहारी के इस ग्रुप ने जैश के आतंकी यासिर के साथ मिलकर त्राल में दो गुज्जर भाइयों को भी निशाना बनाया था. उन्होंने कहा कि अब यासिर हमारे निशाने पर है.

ये भी देखें-: