पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अयूब गोरखपुर से गिरफ्तार, धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप

पीस पार्टी (Peace Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ अयूब (Dr Ayub) को गोरखपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उनकी गिरफ्तारी गोरखपुर (Gorakhpur) के बड़हलगंज स्थित उनके घर से हुई. डॉ अयूब पर भड़काऊ भाषण देने का आरोप है. डॉ.

पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अयूब गोरखपुर से गिरफ्तार, धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप
डॉक्टर अयूब (फाइल फोटो)

गोरखपुर: पीस पार्टी (Peace Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ अयूब (Dr Ayub) को गोरखपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उनकी गिरफ्तारी गोरखपुर (Gorakhpur) के बड़हलगंज स्थित उनके घर से हुई. डॉ अयूब पर भड़काऊ भाषण देने का आरोप है. डॉ. अयूब के खिलाफ लखनऊ में हजरतगंज पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था और फिर इसकी सूचना गोरखपुर पुलिस को दी गई थी. इसी सूचना के बाद पीस पार्टी के अध्यक्ष को गोरखपुर पुलिस ने शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया. 

उर्दू अखबार में छपवाया था भड़काऊ पोस्टर 
पीस पार्टी के अध्यक्ष डॉ अयूब पर लखनऊ पुलिस ने उर्दू के अखबारों में भड़काऊ बयान वाला पोस्टर छपवाने को लेकर दर्ज किया था. डॉ. अयूब पर 153a, 505 और आईटी एक्ट के अंतर्गत FIR दर्ज की गई है. गोरखपुर से गिरफ्तारी होने के बाद लखनऊ पुलिस ने डॉक्टर अयूब राजधानी लखनऊ ले आई. डॉ. अयूब के खिलाफ मुकदमा भी पुलिस ने सोशल मीडिया पर वायरल टिप्पणियों और अखबार में छपे पोस्टर का खुद ही संज्ञान लेने के बाद दर्ज किया था. 

इसे भी पढ़ें:  बिकरू हत्याकांड की जांच कर रही SIT को दिया गया थोड़ा और वक्त, कल सौंपनी थी रिपोर्ट 

BSP अध्यक्ष मायावती ने भी डॉ. अयूब से कहा 'मांगें माफी'
बहुजन समाजवादी पार्टी अध्यक्ष मायावती ने भी डॉ. अयूब की टिप्पणी और अखबार में छपे उनके विवादित पोस्टर पर प्रतक्रिया दी है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है -'दलित-मुस्लिम एकता का राग अलापने वाले पीस पार्टी के मुखिया डा. अय्यूब द्वारा उर्दू अख़बार के विज्ञापन में बाबा साहेब डा. भीमराव अम्बेडकर के बारे में जो बात कही गई है, वह अति-शर्मनाक, दुर्भाग्यपूर्ण व अति-निन्दनीय, जिसके लिए इनको माफी माँगनी चाहिए.'

 

WATCH LIVE TV