close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

UP: कोतवाली के मालखाने में रखे 10 लाख हुए गायब, अधिकारी ने दिए जांच के आदेश

पूरा मामला हज़रतगंज कोतवाली का है कुछ दिन पहले चुनाव को देखते हुए चल रहे चेकिंग अभियान के दौरान 70 लाख एक गाड़ी में पकड़े गए थे.

UP: कोतवाली के मालखाने में रखे 10 लाख हुए गायब, अधिकारी ने दिए जांच के आदेश
मालखाना इंचार्ज अशोक कुमार यादव से पूछताछ की गई और थाने में ही गबन का मुकदमा हजरतगंज एस एच् ओ राधा रमण की ओर से लिखाया गया. (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः एक बार फिर यूपी पुलिस चर्चा में बनी हुई है इस बार पैसे गबन के मामले में. यह पूरा मामला हजरतगंज थाना क्षेत्र का है जहां हजरतगंज कोतवाली के मालखाने से 10 लाख रुपए गायब हो गए. देर रात एचपी पूर्वी सुरेश चंद रावत के अर्दली रूम के दौरान यह मामला सामने आया तो हड़कंप मच गया, आनन फानन में माल खाना के मुंशी अशोक कुमार यादव को हिरासत में ले लिया गया. देर रात माल खाना हेड मुंशी के खिलाफ गबन के आरोप में केस दर्ज कर उसे निलंबित कर दिया गया. मामले की जांच गौतमपल्ली पुलिस को सौंपी गई है.

आंद्रे रसेल की चुनौती थामने को तैयार है दिल्ली का ऑलराउंडर, बोला- यदि वो चूके तो मैं हिट करूंगा

पूरा मामला हज़रतगंज कोतवाली का है कुछ दिन पहले चुनाव को देखते हुए चल रहे चेकिंग अभियान के दौरान 70 लाख एक गाड़ी में पकड़े गए. रुपयों के सही पेपर नही दिखा पाने के कारण उस धन को ज़ब्त कर लिया गया और हज़रतगंज के मालखाने में जमा कर दिया गया. जहां उन्ही पैसों में से थाने के मालखाने से 10 लाख रुपए गायब हो गए. आनन फ़ानन मालखाना इंचार्ज अशोक कुमार यादव से पूछताछ की गई और थाने में ही गबन का मुकदमा हजरतगंज एस एच् ओ राधा रमण की ओर से लिखाया गया. हिरासत में लेने के बाद तत्काल माल खाने इंचार्ज को निलंबित भी कर दिया गया .

रिलीज होते ही YouTube पर छा गया 'कलंक' का टाइटल सॉन्ग, देखें VIDEO

दरअसल प्रभारी निरीक्षक हजरतगंज द्वारा मालखने की जांच में 4 गड्डी कम पाई गईं जो की 10 लाख रुपए थे हेड मुहर्रिर पर इस मामले में मुकदमा दर्ज हुआ है क्योंकि पूछे जाने पर मुहर्रिर कुछ साबित नहीं कर पाया मालखाने का लीगल कस्टोडियल हेड मुहर्रिर होता है इसलिए उसके ऊपर मुकदमा दर्ज हुआ है पुलिस का कहना है कि अभी इंटरोग्रेशन चल रही है और जांच की जा रही है मामले की जाँच गौतमपल्ली थाने को दे दी गई है. बहरहाल इस घटना ने एक बार फिर खाकी की साख पर सवाल खड़े कर दिए है. हालांकि माना जा रहा कि दो दिन पहले सचल दस्ते ने 70 लाख की ब्लैक मनी बरामद की थी . और उसी रकम से 10 लाख की रकम गायब हो गई.