ऋषिकेश में पकड़े गए 1 नेपाली समेत 6 विदेशी नागरिक, लॉकडाउन के पहले से गुफा में छिपे थे सभी

पुलिस के मुताबिक ये सभी लोग देशव्यापी लॉकडाउन के एक दिन पहले से गुफा में छिपे हुए थे. मेडिकल जांच के बाद सभी को एहतियात के तौर पर क्वारंटीन कर दिया गया है.

ऋषिकेश में पकड़े गए 1 नेपाली समेत 6 विदेशी नागरिक, लॉकडाउन के पहले से गुफा में छिपे थे सभी

ऋषिकेश: कोरोना संकट के बीच पर्यटन नगरी ऋषिकेश में पुलिस ने एक नेपाली समेत 6 विदेशी नागरिकों को पकड़ा है. इन में महिलाएं भी शामिल हैं. पुलिस के मुताबिक ये सभी लोग देशव्यापी लॉकडाउन के एक दिन पहले से यहां एक गुफा में छिपे हुए थे. मेडिकल जांच के बाद सभी को एहतियात के तौर पर क्वारंटीन कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें: कोरोना संकट के बावजूद 29 अप्रैल को ही खुलेंगे केदार धाम के कपाट, मौके पर रावल भी रहेंगे मौजूद

24 मार्च से गुफे में थे सभी विदेशी
लक्षमण झूला पुलिस के मुताबिक होटल में रहने के लिए विदेशी नागरिकों के पास पैसे खत्म हो गए थे. जिसके चलते उन्होंने 24 मार्च से नीलकंठ मार्ग के पास जंगल में गुफा को ही आशियाना बना लिया था. ये लोग पास ही के बाजार से राशन लाकर खाना बना रहे थे. जिसकी सूचना स्थानीय लोगों की ओर से मिली.

विदेशियों को क्वारंटाइन किया गया
थानाध्यक्ष राकेंद्र सिंह कठैत ने बताया कि पकड़े गए लोग यूक्रेन, तुर्की, अमेरिका, फ्रांस के हैं. संबंधित दूतावास को भी इसकी जानकारी दे दी गई है. वहीं, स्वास्थ्य परीक्षण में किसी भी विदेशी में कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं. लेकिन फिर भी एहतिहात के तौर पर सभी को स्वर्गाश्रम में क्वारंटाइन कर दिया है.

ये भी पढ़ें: नैनीताल हाईकोर्ट के निर्देश- 7 दिन में पर्वतीय क्षेत्रों के अस्पताल में बनें ICU और लगें वेंटिलेटर