वाराणसी को है देव दीपवाली का इंतज़ार!

वाराणसी की देव दीपावली की खासियत में इस बार यूपी सरकार की देव दीपावली को रिकॉर्ड में दर्ज कराने कोशिश होगी

वाराणसी को है देव दीपवाली का इंतज़ार!
फाइल फोटो

वाराणसीः धर्म नगरी वाराणसी में हर साल होने वाली देव दीपावली इस बार और खास तरीके से मनाने की तैयारी की गई है. गंगा किनारे इस बार सभी 84 घाटों पर देव दीपावली मनाने की तैयारी की गई है. इस बार यूपी सरकार ने भी घाटों पर देव दीपावली मनाने के लिए 50 लाख रुपए की बजट राशि दी है. इस बार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वाराणसी की देव दीपावली में शामिल होंगे. उनके साथ राज्यपाल राम नाईक, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, बॉलीवुड अभिनेता अनिल कपूर समेत तमाम लोग शामिल होंगे. लाखों की संख्या में श्रद्धालु और पर्यटक देव दीपावली देखने आएंगे.

वाराणसी की देव दीपावली की खासियत में इस बार यूपी सरकार की देव दीपावली को रिकॉर्ड में दर्ज कराने कोशिश होगी. माना जा रहा है कि करीब 21 लाख दिए वाराणसी के अलग अलग घाटों पर जलेंगे. इतने सारे दियों को जलाने का रिकॉर्ड भी दर्ज कराया जाएगा. इसके अलावा दशाश्वमेध घाट पर इंडिया गेट की प्रतिकृति बनाई जा रही है. साथ ही बनारास के अलग अलग घाटों पर अलग अलग तरीके की सजावट होगी, अस्सी घाट पर कई सांस्कृतिक कार्यक्रम भी किए जाएंगे. कार्तिक महीने में पुरखों के लिये जलाए जाने वाले आकाशदीप इस बार शहीदों के नाम पर भी जलाए जाएंगे. साथ ही इस बार पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर भी आकाशदीप जलाया जाएगा. 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस बार सभी घाटों का क्रूज़ से निरीक्षण करेंगे. सीएम शाम को वाराणसी पहुंचेंगे और खिड़कियां घाट पहुंच कर क्रूज़ पर सवार होंगे. इसके बाद सीएम योगी राजघाट जाएंगे जहां वो देव दीपावली के कार्यक्रम में शामिल होंगे. राजघाट से सीएम फिर गंगा नदी में क्रूज़ पर सवार होकर दशाश्वमेध घाट पर गंगा जी की महाआरती में शामिल होंगे. गंगा महाआरती में शामिल होने के बाद सीएम अस्सी घाट जाएंगे जहां वो सांस्कृतिक कार्यक्रम देखेंगे. 

देव दीपावली देखने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ मणिकर्णिका घाट जाएंगे. मणिकर्णिका घाट पर सतुआ बाबा के आश्रम में सीएम कार्यक्रम में शामिल होंगे. सतुआ बाबा के आश्रम से निकल कर सीएम काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन करने जाएंगे. जहां सीएम दर्शन के बाद काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का निरीक्षण करेंगे. इसके बाद सीएम योगी लखनऊ निकल जाएंगे.

वाराणसी की देव दीपवाली देश विदेश में प्रसिद्ध है. इस पर्व को देखने के लिए ना केवल वाराणसी और आस पास से बल्कि विदेशों से भी लोग आते हैं. हर साल की तरह इस बार भी नाविक देव दीपवाली के त्यौहार को लेकर बेहद उत्साहित हैं. नाव तैयार हो चुकी हैं, घाट सज रहे हैं. बस इंतज़ार है दुनिया भर में प्रसिद्ध वाराणसी की इस देव दीपवाली का. उम्मीद है कि वाराणसी की इस बार की देव दीपवाली रिकॉर्ड बनाने के साथ साथ और भव्यता की तस्वीर भी पेश करेगी.