Zee Rozgar Samachar

गैंगस्टर Vikas Dubey पर किताब और फिल्म बनने से पत्नी Richa Dubey नाराज, निर्माताओं को भेजा लीगल नोटिस

कानपुर का बिकरु गांव एक बार फिर चर्चा में है. इस गांव के मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे के जीवन पर फिल्म बन रही है और साथ ही एक किताब भी छपने जा रही है. गैंगस्टर विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे (Richa Dubey) ने वकीलों को जरिए निर्माता-लेखक को नोटिस भेजकर अपनी आपत्ति जताई है. 

गैंगस्टर Vikas Dubey पर किताब और फिल्म बनने से पत्नी Richa Dubey नाराज, निर्माताओं को भेजा लीगल नोटिस
ऋचा दुबे और विकास दुबे (फाइल फोटो)

लखनऊ: पुलिस एनकाउंटर में मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे (Vikas Dubey) की पत्नी ऋचा दुबे (Richa Dubey) ने एक किताब के लेखक और अपने पति के जीवन पर फिल्म बना रहे निर्माताओं को कानूनी नोटिस भेजा है. ऋचा दुबे ने चेतावनी दी है कि यदि उन्हें सात दिनों के भीतर संतोषजनक जवाब नहीं मिला, तो वह हाईकोर्ट में उनके खिलाफ केस दायर कर देंगी. 

'विकास दुबे पर किताब छपने से परिवार की छवि खराब होगी'

अपने वकील के जरिए भेजे गए लीगल नोटिस में ऋचा दुबे (Richa Dubey) ने अपने पति विकास दुबे (Vikas Dubey) के जीवन और बिकरू  (Bikru) हत्याकांड पर आधारित किसी भी सामग्री पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है. ऋचा के वकीलों ने कहा कि बिकरू घटना पर एक किताब लिखी जा रही है और फिल्म बनाई जा रही है. इससे उनके परिवार की छवि खराब होगी. 

विकास दुबे के जीवन पर बन रही है फिल्म  'हनक' 

ऋचा के वकील प्रभा शंकर मिश्रा और ऋषभ राज ने पत्रकारों को बताया कि मृदुल कपिल की ओर से 'मैं कानपुर वाला' (Main Kanpur Wala) किताब लिखी जा रही है. इसके साथ ही इस किताब पर आधारित एक फिल्म  'हनक' (Hanak) का निर्माण हो रहा है. इसके लिए कई जगहों पर फिल्म की शूटिंग की जा रही है.  

'फिल्म-किताब लिखना संविधान का उल्लंघन'

वकीलों ने कहा कि किताब के साथ-साथ बायोपिक भी संविधान के अनुच्छेद 21 का उल्लंघन है जो निजता के अधिकार की रक्षा करता है. भारतीय संविधान के अनुच्छेद 21 में कहा गया है कि कानून द्वारा स्थापित प्रक्रिया के अलावा किसी भी व्यक्ति को अपने जीवन और व्यक्तिगत स्वतंत्रता के अधिकार से वंचित नहीं किया जा सकता है.

'किताब लिखने से पहले परिवार से सहमति नहीं ली गई'

वकीलों ने कहा, 'किताब लिखने या फिल्म बनाने से पहले ऋचा दुबे (Richa Dubey) और परिवार के अन्य सदस्यों से कोई अनुमति नहीं मांगी गई थी. यह निजता के अधिकार का उल्लंघन है. परिवार को इस बारे में तभी पता चला जब फिल्म का ट्रेलर जारी किया गया. फिल्म को मोहन नागर द्वारा बनाया जा रहा है और मध्य प्रदेश में फिल्माया जा रहा है.'

पिछले साल 3 जुलाई को कानपुर में हुआ था बिकरु हत्याकांड

बता दें कि पिछले साल 3 जुलाई को विकास और उसके गुर्गो ने मिलकर दबिश देने के लिए कानपुर के बिकरु (Bikru) गांव में पहुंचे 8 पुलिसकर्मियों की सुनियोजित तरीके से हत्या कर दी गई थी. इस हत्याकांड में यूपी पुलिस के एक डीएसपी और 3 थानाध्यक्ष समेत 8 पुलिसवाले मारे गए थे. 

ये भी पढ़ें- विकास दुबे पर बन रही फिल्म 'Hanak' की शूटिंग शुरू, जानिए कब होगी रिलीज

यूपी पुलिस ने ढूंढ-ढूंढकर विकास समेत 6 गुर्गों का एनकाउंटर किया

इसके बाद यूपी पुलिस ने ढूंढ-ढूंढकर विकास दुबे (Vikas Dubey) गैंग के 6 बदमाशों को एनकाउंटर में ठिकाने लगा दिया था. विकास दुबे को भी मध्य प्रदेश से गिरफ्तारी के बाद 10 जुलाई को एक मुठभेड़ में मारा गया था. ऋचा के वकीलों ने किताब और फिल्म के मामले में केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के हस्तक्षेप की भी मांग की है.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.