अनुच्छेद 370: पहली वर्षगांठ पर PAK उगलेगा जहर, भारत विरोधी एजेंडे का बनाया प्‍लान

अनुच्छेद 370 हटने की पहली वर्षगांठ पर भारत विरोधी कार्यक्रम करके पाकिस्तानी सरकार कोरोना से लोगों का ध्यान हटाने और लोगों को भारत के खिलाफ लगातार सक्रिय रहने का संदेश देने की कोशिश करेगी. 

अनुच्छेद 370: पहली वर्षगांठ पर PAK उगलेगा जहर, भारत विरोधी एजेंडे का बनाया प्‍लान

इस्लामाबाद: पाकिस्तान (pakistan) ने जम्मू- कश्मीर (jammu kashmir) से अनुच्छेद 370 हटाए जाने की पहली वर्षगांठ पर दुनिया में दुष्प्रचार फैलाने का प्लान फाइनल कर लिया है. पाकिस्तान ने कहा है कि वह इस दिन को यौम ए इस्तेहसाल (कश्‍मीर बंधक दिवस) के रूप में मनाएगा. सभी टीवी चैनलों को निर्देश दिए गए हैं कि वे इस दिन अपने लोगो को काला करें और न्यूज एंकर हाथों में ब्लैक बैंड पहनकर भारत के खिलाफ जहर उगलें. 

पाकिस्तान 5 अगस्त को 'कश्मीर बंधक दिवस' के रूप में मनाएगा
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी निर्देश के अनुसार 5 अगस्त को 'कश्मीर बंधक दिवस' के रूप में मनाया जाएगा. सभी टीवी चैनल, अखबार, वेबसाइट और रेडियो को निर्देश दिया गया है कि वे उस दिन जम्मू कश्मीर में भारत की कथित ज्यादतियों के खिलाफ कार्यक्रम करें. 

LIVE TV

टीवी चैनलों को भारत के खिलाफ विशेष प्रोग्राम बनाने का निर्देश
वहां के टीवी चैनलों को कश्मीरी मुसलमानों के कथित उत्पीड़न पर स्पेशल प्रोग्राम बनाने का भी निर्देश दिया गया है. पाकिस्तान की इमरान सरकार ने यह भी आदेश दिया है कि 5 अगस्त को 'जम्मू कश्मीर में लॉकडाउन के एक साल' बताने के बजाय इसे भारत द्वारा गैरकानूनी तरीके से अधिकृत जम्‍मू कश्‍मीर यानी 'Indian Illegal Occupied Jammu Kashmir (IIOJK)' का एक साल बताया जाए.

पाकिस्तान की मीडिया के लिए नई शब्दावली जारी की गई
पाकिस्तान सरकार ने टीवी, अखबार, वेबसाइट और रेडियो पर इस्तेमाल करने के लिए नई शब्दावली भी जारी की है. पाकिस्तान ने कहा है कि IOJK (indian occupied jammu kashmir) या IOK (indian occupied kashmir) कहने के बजाय IIOJK कहा जाए. इसी प्रकार 'गैर कानूनी विलय या विलय' शब्द के बजाय 'गैरकानूनी कार्रवाई' शब्द का इस्तेमाल किया जाए. 

'लॉकडाउन' के बजाय 'मिलिट्री बंधक' कहेगा पाकिस्तान
जम्मू कश्मीर में 'डेमोग्राफी रि- इंजीनियरिंग' शब्द कहने के बजाय 'डेमोग्राफी परिवर्तन' शब्द कहने का आदेश दिया गया है. चैनलों और अखबारों से कहा गया है कि वे जम्मू कश्मीर में 'लॉकडाउन' का एक साल कहने के बजाय 'मिलिट्री बंधक' का एक साल शब्द का प्रयोग करें. 

ये भी देखें-